हरिद्वार समाचार-वर्तमान में नीति आयोग भारत सरकार द्वारा देश के 115 जनपदों में संचालित महत्वाकंाक्षी कार्यक्रम आकांक्षी जनपद (Aspirational District) कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। जिसमें स्वास्थ्य एवं पोषण, शिक्षा, कृषि एवं जल संसाधन वित्तीय समावेशन एवं कौशल विकास तथा आधारभूत संरचना से सम्बंधित 49 के0पी0आई0 के आधार पर जनपद का निरन्तर अनुश्रवण एवं मूल्यांकन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम को गति प्रदान किये जाने हेतु केन्द्र सरकार द्वारा देश में कार्यरत समस्त केन्द्रीय औद्योगिक संस्थानों को अलग-अलग जनपद आवंटित किये गये है। साथ ही उन्हें अपने सामाजिक दायित्व कार्यक्रम (सी0एस0आर0) के माध्यम से वित्तीय सहायता उपलब्ध कराये जाने हेतु निर्देशित किया गया है। भारत सरकार के उक्त अधिदेश के क्रम में जनपद हरिद्वार में कार्यरत महारत्न भेल (भारत हैवी इलेक्ट्राॅनिकल्स लिमिटेड) द्वारा जनपद को स्वास्थ्य एवं पोषण के सैक्टर के अन्तर्गत बालिकायों एवं महिलाओं में मासिक धर्म के प्रति जागरूकता एवं व्यक्तिगत स्वच्छता के प्रति जागरूकता के लिए सैनट्री नैपकीन एवं इनसिनिरेटर्स की अलग-अलग स्थानों पर स्थापना हेतु वित्त पोषण किया जा रहा है। इस हेतु नैपकीन जनपद की महिला स्वंय सहायता समूहों द्वारा तैयार किया जायेगा, जिसके लिए राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) के तहत गठित महिला समूह को चिन्हित किया गया है। इस कार्यक्रम से एक ओर महिलाओं एवं किशोरियों के स्वास्थ्य सम्बंधी जागरूकता बढेगी वहीं दूसरी ओर महिलाओं को आजीविका का एक अवसर प्राप्त होगा। स्कूलों में स्थापित किये जा रही इन वैंडिंग मशीनों हेतु नैपकीन वितरण एस0एच0जी0 से खरीदने का कार्य सम्बंधित संस्थान द्वारा किया जायेगा। बालिकाओं को स्कूलों में उक्त नैपकीन पैडस् 05 रू प्रति के सिक्का बैंडिग मशीन में डालने पर मिलेगा।
उपरोक्त कार्यक्रम जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग एवं शिक्षा विभाग के द्वारा सेनेट्री नेपकिंन वेंडिंग मशीन और इनसिनिरेटर्स (INSTALLING SANITARY NAPKIN VENDING MACHINES and INCINERATORS) की 60 यूनिट हेतु 58 सरकारी विद्यालयों एवं 01 वूमन वर्किंग हाॅस्टल में स्थापित किये जाने हेतु कुल अंकन 52.07 लाख की धनराशि के सझौता ज्ञापन पर दिनांक 28.10.2020 को बी0एच0ई0एल0 त्रिशूल अतिथि गेस्ट हाॅउस के सभागार में निम्नंलिखित अधिकारियों एवं कर्मचारियों की उपस्थिति में सझौता ज्ञापन पर सर्वसहमति से हस्ताक्षर किये गये।
जिलाधिकारी (श्री सी0 रविशंकर), मुख्य विकास अधिकारी (विनीत तोमर), जिला विकास अधिकारी (पी0एस0 चैहान), मुख्य शिक्षाधिकारी (डाॅ0 आनन्द भारद्वाज), जिला कार्यक्रम अधिकारी (श्रीमती भारती तिवारी) एवं बी0एच0ई0एल0 की ओर से कार्यकारी निदेशक (श्री संजय गुलाटी), जी0एम0-एच0आर0 एण्ड टैक्स (श्री रतीरंजन शर्मा), डी0जी0एम0-सीएसआर (श्री एच0बी0 सिंह), डी0जी0एम0-वित्त/सीएसआर समिति के सदस्य (श्री पी0के0 मोहराना), वरिष्ठ प्रबन्धक सिविल टाउनशिप/सीएसआर समिति के सदस्य (श्री शुभाष चन्द), विभागीय इंजीनियरिंग (श्री सुधीर कुमार) ए0जी0एम0-सी0 एण्ड पी0आर0 (श्री राकेश मनीकताला), वरिष्ठ प्रबन्धक-सी0 एण्ड पी0आर0 (श्री अजीत अग्रवाल) अनुबन्ध के अनुसार यह कार्य वित्तीय वर्ष 2020-21 में पूरे किये जायेगे। प्रशासन द्वारा बी0एच0ई0एल0 के सभी सम्मानितगणों का आभार प्रकट किया और कहा कि हरिद्वार जिले को इस धनराशि से बहुत मद्द मिलेगी। श्री सन्तोष कुमार त्रिपाठी ने इस पूण्र्य कार्य हेतु जिले के प्रशासनिक अधिकारीगणों का धन्यवाद किया और कहा कि बी0एच0ई0एल0 हमेशा इस तरह के कार्यों में अपना सहयोग देता है और आगे भी देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.