हरिद्वार: जिला पंचायतराज अधिकारी श्री अतुल प्रताप सिंह ने अवगत कराया कि उत्तराखण्ड शासन के कार्यालय ज्ञाप/ अधिसूचना संख्या-570 दिनांक 27 जुलाई 2022 द्वारा ग्रामीण एवं शहरी निकायों में अन्य पिछडा वर्ग आरक्षण निर्धारण एवं पिछडे वर्गों के पिछडेपन की प्रकृति एवं निहितार्थों की समसामयिक जॉच हेतु श्री बी०एस० वर्मा सेवानिवृत्त न्यायाधीश मा० उच्च न्यायालय उत्तराखण्ड नैनीताल की अध्यक्षता में एकल सदस्यीय समर्पित आयोग का गठन किया गया है। इस क्रम में आज दिनांक 02.08.2022 मंगलवार को पूर्वाहन 11.00 बजे मा० आयोग के अध्यक्ष श्री बी०एस०वर्मा द्वारा विकास खण्ड सभागार भगवानपुर में जन सुनवाई करते हुए उपस्थित लोगो के विचार एवं सुझाव जाने गये। इस दौरान आयोग के सदस्य सचिव व अपर सचिव पंचायतीराज उत्तराखण्ड शासन श्री ओमकार सिंह, उप निदेशक पंचायतीराज श्री मनोज कुमार तिवारी, अपर मुख्य अधिकारी (मुख्यालय), श्रीमती हिमाली जोशी पेटवाल, जिला पंचायतराज अधिकारी हरिद्वार श्री अतुल प्रताप सिंह, खण्ड विकास अधिकारी भगवानपुर व सहायक विकास अधिकारी (पं०) भगवानपुर उपस्थित रहे। आयोग के अध्यक्ष श्री वर्मा द्वारा उपस्थित ग्रामीण जन व अन्य पिछड़ा वर्ग के हितबद्ध व्यक्तियों से विचार विमर्श कर उनके विचार जाने गये। इस दौरान माननीय विधायक भगवानपुर श्रीमती ममता राकेश के द्वारा भी आयोग से मुलाकात की गयी। उपनिदेशक श्री मनोज कुमार तिवारी द्वारा लोगांे से निदेशालय पंचायती राज देहरादून के पते पर आयोग हेतु लिखित सुझाव भेजने का आग्रह भी किया गया।
इसके उपरान्त मा० अध्यक्ष श्री बी०एस० वर्मा द्वारा विकास खण्ड नारसन में अपराह्न  3.00 बजे विकास खण्ड सभागार नारसन में जन सुनवाई करते हुए लोगों के विचार एवं सुझाव जाने गये।
                           श्री अतुल प्रताप सिंह, जिला पंचायत राज अधिकारी ने यह भी जानकारी दी है कि दिनांक 03 अगस्त,2022 को प्रातः 11 बजे रूड़की में तथा 3.00 बजे बहादराबाद ब्लाक सभागार में जन-सुनवाई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.