देहरादून समाचार–  जिलाधिकारी डाॅ0 आर राजेश कुमार ने अवगत कराया है कि जनपद देहरादून क्षेत्रान्तर्गत विभिन्न सड़क मार्गों विशेष रूप से स्मार्ट सिटी परियोजना के अन्तर्गत संचालित हो रहे कार्यों से संबंधित कार्यदायी संस्था एवं ठेकेदारों द्वारा सड़क खुदाई कार्यों के दौरान खुदाई वाले क्षेत्र के भरान के पश्चात कार्यस्थल से अवशेष मलवा का पूर्ण रूप से निस्तारण न किये जाने से दुर्घटना की सम्भावना बनी रहती है। अवगत कराया कि हाल ही में निर्माणधीन कार्यस्थलों पर भरान कार्य की गुणवत्ता संतोषजनक न होने तथा मलवा अव्यवस्थित रूप से फैले होने से आम जनमानस को असुविधाओं का सामना करना पड़ा है। तथा कई लोग दुर्घटना में गम्भीर रूप से चोटिल भी हुए हैं। जिसको लेकर स्थानीय स्तर पर जनमानस में भारी आक्रोश देखने को मिला है। भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति न हो तथा आवागमन सुगम व सुरक्षित रहे, इस निमित्त सुधारात्मक कार्यवाही/प्रभावी अनुश्रवण आवश्यक है।
जिलाधिकारी ने समस्त विभागीय तथा स्मार्ट सिटी परियोजना के संबंधित कार्यदायी संस्थाओं एवं ठेकेदारों को निर्देशित/आदेशित किया है कि सड़क खुदाई कार्य के दौरान भरान कार्य की उच्च गुणवत्ता के साथ-साथ अवशेष मलवा का भी तत्काल निस्तारण सुनिश्चित करें। उन्होंने स्पष्ट किया कि यदि किसी स्थान पर भरान कार्य की गुणवत्ता खराब व अनावश्यक रूप से मलवा पाया जाता है तो संबंधित के विरूद्ध सुसंगत अधिनियमों के अन्तर्गत कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। उन्होंने अधीक्षण/अधिशासी अभियन्ता, लोनिवि/पेयजल निगम/जल संस्थान/ सिंचाई/लघु सिंचाई/पीएमजीएसवाई/राष्ट्रीय राजमार्ग सहित मुख्य महाप्रबन्धक (तकनीकी) देहरादून स्मार्ट सिटी लिमिटेड को आदेशों का कड़ाई से अनुपालन करवाने के निर्देश दिए

Leave a Reply

Your email address will not be published.