मां दुर्गा की अराधना से मन निर्मल होकर आत्मिक, दैविक व भौतिक शक्तियों की प्राप्ति होती है-स्वामी कैलाषानंद ब्रह्मचारी
हरिद्वार 24 अक्टूबर। नीलधारा स्थित श्री दक्षिण काली मंदिर में म0म0 स्वामी कैलाषानंद ब्रह्मचारी महाराज के तत्वावधान में मां दक्षिण काली की विषेष पूजा अर्चना की गई। इस दौरान श्रद्धालु भक्तों को सम्बोधित करते हुए स्वामी कैलाषानंद ब्रह्मचारी ने कहा कि मां दुर्गा की अराधना से मन निर्मल होकर आत्मिक, दैविक व भौतिक शक्तियों की प्राप्ति होती है और सदाचार व संयम की भावना जागृत होती है। उन्होनंे कहा कि मां की अराधना से सिद्धियों में निधियों को प्राप्त समस्त रोग, शोक दूर होकर आयु, यश में वृद्धि होती है। मोक्ष के द्वार खोलने वाली देवी मां भगवती परम सुखदायी है जो अपने भक्तों की समस्त इच्छायें पूर्ण करती है। अपनी शरण में आने वाले श्रद्धालु भक्तों का मां कल्याण कर उन्हें यष वैभव व कीर्ति प्रदान करती है। सभी को मोह, माया, लोभ का त्याग कर मां की भक्ति में लीन रहना चाहिये क्योंकि भक्ति में ही जीवन का आनंद है और मां भगवती की कृपा से ही व्यक्ति अपने कल्याण का मार्ग प्रषस्त कर सकता है। इस दौरान आचार्य पवनदत्त मिश्र, पं0 प्रमोद पाण्डे, अंकुष शुक्ला, सागर ओझा आदि उपस्थित रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.