हरिद्वार समाचार– अपर मेला अधिकारी हरवीर सिंह ने बैरागी कैंप पहुंचकर श्रीपंच निर्वाणी अनी अखाड़े के अध्यक्ष श्रीमहंत धर्मदास महाराज से कुंभ मेले की व्यवस्थाओं को लेकर चर्चा की। इस दौरान श्रीमहंत धर्मदास महाराज ने कहा कि कुंभ मेला प्रारंभ होने की अवधि बहुत कम रह गई है। मेला प्रशासन को जल्द ही भूमि आवंटित कर सभी अखाड़ों एवं खालसा को आवंटन पत्र दिए जाएं। साथ ही तीनों वैरागी अनी अखाड़ों के लिए बिजली, पानी, शौचालय की व्यवस्था सर्वप्रथम की जाए। श्रीमहंत धर्मदास महाराज ने कहा कि सरकार को कोरोना नियमों में शिथिलता बरतनी चाहिए । करोड़ों श्रद्धालु भक्तों एवं संतों की आस्था का केंद्र कुंभ मेला भारतीय संस्कृति का सबसे बड़ा पर्व है। जिसका इंतजार 12 वर्ष तक लोग करते हैं। कुंभ में आने वाले यात्री श्रद्धालुओं के लिए नियमों में छूट देनी आवश्यक है। अखिल भारतीय श्री रामानंदीय खाकी अखाड़े के श्रीमहंत मोहनदास महाराज ने कहा कि वैक्सीन आने के बाद सरकार को टीकाकरण मैं तेजी लानी चाहिए। उत्तराखंड सरकार को चाहिए कि अतिरिक्त वैक्सीन मंगा कर उत्तराखंड आने वाले यात्री श्रद्धालु एवं स्थानीय नागरिकों का टीकाकरण किया जाए। जिससे कि कुंभ मेले के दौरान संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। साथ ही सरकार को समय से कुंभ मेले की तैयारियों को पूरा करना चाहिए। अपर मेला अधिकारी हरवीर सिंह ने उन्हें आश्वासन देते हुए कहा कि सरकार की गाइड लाइन के चलते कुंभ कार्यों में कुछ विलंब हुआ है। लेकिन मेला प्रशासन व राज्य सरकार कुंभ मेला सकुशल संपन्न कराने के लिए पूर्ण रुप से आश्वस्त है उन्होंने कहा कि कुंभ मेले के दौरान किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना संत महापुरुषों को नहीं करना पड़ेगा। मेला प्रशासन की तैयारियां समय से पूर्ण हो जाएंगी। उन्होंने कहा कि जल्द ही बैरागी कैंप से अवैध अतिक्रमण भी हटा दिया जाएगा। इस दौरान महंत सुखदेव दास, महंत सिंटू दास, महंत अगस्त दास, स्वामी अमित दास आदि संत उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.