हरिद्वार समाचार– श्री कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर जगजीतपुर स्थित सिद्धबली हनुमान मंदिर एवं नर्मदेश्वर महादेव मंदिर में श्री कृष्ण जन्मोत्सव धूमधाम के साथ मनाया गया और सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। जिसमें नन्हे मुन्ने बच्चों ने भगवान श्री कृष्ण के भजनों पर भव्य प्रस्तुति दी और सबका मन मोह लिया। कार्यक्रम के उपरांत श्रद्धालु भक्तों को संबोधित करते हुए मां मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने कहा कि जन्माष्टमी पर्व हमें प्रेम एवं समर्पण का संदेश देता है। द्वारिकाधीश भगवान श्री कृष्ण निष्काम कर्म योगी, आदर्श दार्शनिक एवं देवी संपदा से सुसज्जित महापुरुष थे। जिनकी लीलाएं अपरंपार है। उनके जीवन आदर्श से प्रेरणा लेकर सभी को सत्य के मार्ग पर अग्रसर रहना चाहिए और भगवान की भक्ति में लीन रहकर स्वयं को भगवान के प्रति समर्पित करना चाहिए। ऐसे श्रद्धालु भक्तों से भगवान श्रीकृष्ण प्रसन्न होकर उन्हें यश वैभव सुख समृद्धि प्रदान करते हैं और उनके जीवन का संरक्षण कर भवसागर से पार लगाते हैं। रानीपुर विधायक आदेश चैहान ने कहा कि भगवान श्री कृष्ण जैसे मित्र, स्वामी एवं पुत्र और भाई किसी लोक में भी नहीं हो सकते। जिन्होंने बाल्यावस्था से ही संपूर्ण सृष्टि के लिए आदर्श जीवन व्यतीत कर समाज को मानवता का संदेश दिया। योगेश्वर श्रीकृष्ण ने कहा है कि इस संसार में माता पिता के समान कोई श्रेष्ठ देवता नहीं है। इसलिए सभी प्रकार से उनकी पूजा और सेवा अंत समय तक करनी चाहिए। जो व्यक्ति दान, तपस्या, सत्य भाषण और इंद्रिय संयम के द्वारा निरंतर धर्माचरण में लगा रहता है। उसी व्यक्ति को स्वर्ग की प्राप्ति होती है। सिद्धबली हनुमान मंदिर एवं नर्मदेश्वर महादेव मंदिर के परमाध्यक्ष स्वामी आलोक गिरी महाराज ने कहा कि भगवान श्री कृष्ण के मन में अपने गुरु के प्रति हमेशा सम्मान रहा। वह जिस भी साधु-संत से मिले। उन्होंने उनका आदर पूर्वक सत्कार किया और यह गुण प्रत्येक व्यक्ति में होना चाहिए। अपने गुरु के प्रति आदर भाव रखने वाले व्यक्ति सदैव ही उच्च लोकों की प्राप्ति कर भगवत सत्ता को पा लेते हैं। भगवान श्रीकृष्ण की सुदामा से दोस्ती एक शुद्ध प्रेम था। जो आज भी मानवता को प्रेम सद्भाव का संदेश प्रदान करती है। इससे हर व्यक्ति को अपने रिश्ते की कद्र करने और दोस्तों के प्रति सदैव प्रेम का भाव रखने की सीख मिलती है। भगवान श्री कृष्ण के आदर्श पूर्ण जीवन से प्रेरणा लेकर सभी को सत्य के मार्ग पर निरंतर अग्रसर रहना चाहिए इस अवसर पर दिगंबर नीरज गिरी, महंत केदार गिरी, स्वामी विनोद गिरी, संघ प्रचारक पदम सिंह, पार्षद विकास कुमार, सुमित भाटिया, नागेंद्र राणा, संदीप प्रधान, अरूण पाल, संजय चैधरी, जगमोहन निहाल, चंद्रसिंह रावत, रमेश रावत, अनिल मिश्रा, दिनेश वालिया, नीतिश वालिया आदि सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु भक्तों ने जन्माष्टमी पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.