हरिद्वार– पंचायती अखाड़ा निंरजनी के आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने कोरोना के प्रति लोगों से सावधानी बरतने तथा कोविड गाइड लाईन का पालन करने की अपील की है। श्री दक्षिण काली मंदिर में प्रैस को जारी बयान में स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने कहा कि दो वर्ष से अधिक समय से भारत सहित दुनिया कोरोना महामारी से त्रस्त है। महामारी की दूसरी लहर में भारत में बड़ी संख्या में कोरोना से त्रस्त मरीज असमय ही काल के गाल में समा गए। अर्थव्यवस्था पर भी कोरोना का भारी विपरीत असर हुआ है। कोरोना की दूसरी लहर समाप्त होने के कुछ महीनों बाद ही ओमिक्रान के रूप में कोविड का नया वेरिएंट सामने आने के बाद मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे में सभी को कोरोना के प्रति जागरूक रहते हुए नियमों का पालन कर स्वयं व अपने परिवार को महामारी के खतरे से बचाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सभी कोविड गाइड लाईन का पालन करते हुए मास्क अवश्य लगाएं। अनावश्यक रूप से भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें और शारीरिक दूरी का पालन करे। नियमों का पालन कर ही महामारी से बचाव किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि आपदा के समय संत महापुरूषों ने सदैव आगे बढ़कर सरकारों व समाज का सहयोग किया है। लाॅकडाउन में अखाड़ों, आश्रमों द्वारा विशेष सेवा प्रकल्प संचालित कर गरीब जरूरतमंदों की मदद की गयी। स्वामी अवंतिकानंद ब्रह्मचारी ने श्री दक्षिण काली मंदिर में दर्शन व पूजन के लिए आने वाले सभी श्रद्धालु भक्तों से मास्क लगाकर ही मंदिर आने की अपील की है। उन्होंने कहा कि स्वयं व दूसरों की सुरक्षा के लिए सभी को मास्क अवश्य लगाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.