देहरादून  समाचार – जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने समस्त उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि अपने-अपने क्षेत्रों में कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम हेतु विभिन्न माध्यमों  से जनजागरूकता कार्यक्रम चलाएं जाए तथा इनकी नियमित समीक्षा भी की जाए। उन्होनें सभी उप जिलाधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्रान्तर्गत प्रभावी सर्विलांस कराने एवं स्वास्थ्य टीम से समन्वय करते हुए सैम्पलिंग भी बढाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि त्यौहारी सीजन के मध्यनजर अब बाजारों, सार्वजनिक परिवहन,पर्यटन स्थलों में भीड़ बढ रही है ऐसे में विशेष सतर्कता बरतते हुए मास्क एवं सोशल डिस्टेसिंग का के मानकों का पालन करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने जनमानस से अपेक्षा की है कि सार्वजनिक स्थानों, बाजारों में मास्क, फेशकवर, सामाजिक दूरी का पालन करते हुए नियिमत सेनिटाइजर, स्वच्छता उपाय अपनाएं तथा  अन्य को भी इसके उपयोग हेतु जागरूक करें।
जिलाधिकारी ने नगर निगम एवं नगर पालिका परिषद के अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिए कि पर्यटन स्थलों, पार्कों एवं अन्य प्रमुख स्थानों में साफ-सफाई के साथ ही कोविड-19 संक्रमण में सावधानी ही बचाव है सम्बन्धी पोस्टर बैनर लगाते हुए जनमानस एवं आने वाले पर्यटकों में जागरूकता लाई जाय और कीटनाशक दवा,  फाॅगिंग सोडियम हाइपोक्लोराइट आदि का नियमित छिड़काव भी करायें। उन्होंने होटल व्यवसायियों, अन्य लघु व्यवसायियों, स्वयं सेवी संगठनों से अपील की है कि कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम हेतु केन्द्र एवं राज्य सकार के दिशा निर्देशों का अनुपालन करते हुए संक्रमण की रोकथाम में प्रशासन को सहयोग करें।
जिलाधिकारी डाॅं0 आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया है कि जनपद में कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत प्राप्त हुई रिपोर्ट में 74 व्यक्तियों की रिपोर्ट पाॅजिटिव प्राप्त होने के फलस्वरूप जनपद में आतिथि तक कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 17452 हो गयी है, जिनमें कुल 16086 व्यक्ति उपचार के उपरान्त स्वस्थ हो गये हैं। वर्तमान में जनपद में  605 व्यक्ति उपचाररत हैं। इसके अतिरिक्त जनपद में आज जांच हेतु कुल 1956 सैम्पल भेजे गये।
कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत बचाव एवं रोकथाम हेतु जनपद अन्तर्गत विभिन्न चिकित्सालयों में वर्तमान में 213 आईसीयू बैड रिक्त हैं। जनपद में सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का उपयोग न करने पर 577 व्यक्तियों के चालान किये गये

Leave a Reply

Your email address will not be published.