हरिद्वार समाचार

दिनांक 08.07.2021 को कोतवाली ज्वालापुर क्षेत्रान्तर्गत मोरा तारा ज्वैलर्स निकट शंकर आश्रम हरिद्वार में कुछ अज्ञात हथियारबन्द बदमाशों द्वारा लूट की घटना को अंजाम देने की सूचना प्राप्त हुई। उक्त घटना के सम्बन्ध में तत्काल थाना ज्वालापुर पर वादी निपुण मित्तल पुत्र नवीन चन्द निवासी- मयूर विहार आर्यनगर थाना ज्वालापुर हरिद्वार द्वारा मु0अ0सं0 370/2021 धारा 395 भादवि पंजीकृत कराया गया।
उक्त घटना के शीघ्र अनावरण हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के आदेशानुसार पुलिस अधीक्षक अपराध, पुलिस अधीक्षक नगर, क्षेत्राधिकारी नगर के निकट पर्यवेक्षण में प्रभारी निरीक्षक ज्वालापुर के नेतृत्व में सीआईयू हरिद्वार/ रूड़की एवं जनपद के अन्य थानों की 10 टीमें गठित कर विभिन्न संभावित स्थानों पर रवाना किया गया। उक्त घटना की गम्भीरता के दृष्टिगत घटना के शीघ्र अनावरण हेतु पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड द्वारा एसटीएफ उत्तराखण्ड व पुलिस उपमहानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र  द्वारा भी रेंज स्तर से पुलिस टीम हरिद्वार भेजी गयी एवं स्वयं भी घटनास्थल का भौतिक निरीक्षण करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिये। पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड  द्वारा प्रतिदिन की कार्यवाही की समीक्षा स्वयं करते हुए टीमों को अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये जा रहे थे। साथ ही पुलिस उपमहानिरीक्षक एसटीएफ व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ द्वारा भी अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु दिशा निर्देश दिये गये।
सीसीटीवी फुटेज व हुलिये के आधार पर अभियुक्तगण की तलाश जनपद हरिद्वार, सरहदी जनपदों व राज्यों में तलाश सुरागरसी पतारसी की गयी। घटना के अनावरण व माल-मुल्जिमान की तलाश सुरागरसी-पतारसी हेतु मुखबिर मामूर किये गये। पूर्व में इस प्रकार की घटनाओं में संलिप्त अपराधियों की जानकारी कर सूचना संकलित की गयी।
पुलिस टीमों द्वारा घटना के दिन से ही दिन-रात की जा रही कार्यवाही के उपरान्त 48 घंटे के अन्दर दिनांक 11.07.2021 को पुलिस टीम द्वारा ठोस पतारसी सुरागरसी कर निम्नलिखित अभि0गण को गिरफ्तार किया गया-


1- सचिन उर्फ गुडडू पुत्र संजय निवासी- कल्लरहेडी थाना गंगोह जिला सहारनपुर उ0प्र0
2-हिमाशुं त्यागी पुत्र मामचन्द त्यागी निवासी- थल इनायतपुर थाना स्याना जिला बुलन्दशहर उ0प्र0 3-अभि0 हंसराज सैनी उर्फ टिंकू पुत्र निर्मल सैनी निवासी- ग्राम राजपुर छाजपुर गढी थाना बुढाना जिला मुजफफरनगर उ0प्र0 हाल निवासी- जिला पंचायत गेस्ट हाउस रूडकी हरिद्वार उक्त गिरफ्तार अभियुक्तों के कब्जे से दो अदद तमंचे 315 बोर, 02 जिन्दा कारतूस 315 बोर, 11 छोटी-बडी सफेद धातु की मूर्तियां, दो लाख ग्यारह हजार रूपये नगद, एक मोटर साइकिल स्पलेण्डर बिना नम्बर (रंग काला) व दो अदद नम्बर प्लेट बरामद की गयी थी।
उक्त गिरफ्तार अभियुक्तों से दौराने पूछताछ अभियोग में निम्न 05 अभियुक्त प्रकाश में आये-
1- सतीश चैधरी पुत्र महेन्द्र सिह निवासी- गांव सदरपुर थाना सलेमपुर जिला बुलन्दशहर।
2- अमित उर्फ फौजी पुत्र किरणपाल निवासी- यारपुर थाना भवन जिला शामली उ0प्र0 हाल निवासी- म0न0 149/1 विजयनगर गाजियाबाद उम्र
3- संजय उर्फ राजू पुत्र तेजवीर सिह निवासी- ग्राम बासोती थाना शिकारपुर जिला बुलन्दशहर उ0प्र0
4- नितिन मलिक पुत्र सुरेन्द्र सिह निवासी- ग्राम कुरमाली थाना शामली उ0प्र0।
5- विकास उर्फ हिमांशू निवासी रोहणी दिल्ली।


उपरोक्त अभियुक्तों की गिरफ्तारी व शेष माल की बरामदगी हेतु अभय कुमार सिह क्षेत्राधिकारी नगर हरिद्वार के नेतृत्व में पुलिस टीमों को पुनः गठित करते हुए निम्न टास्क दिये गये-
(1) सीसीटीवी फुटेज
(2) इलैक्ट्रॉनिक सर्विलांस
(3) मैनुअल पुलिसिंगध्इन्ट्रोगेशन
(4) गैंग आईडेन्टिफिकेशन
उक्त टीम द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों के क्रम में बुलन्दशहर, शामली, मेरठ, मुजफफरनगर, गाजियाबाद, दिल्ली आदि स्थानों पर दबिशें देते हुए दिनांक 12.07.2021 को ठोस सुरागरसी पतारसी व मैनुअल पुलिसिंग के उपरांत निम्नलिखित अभियुक्तों को खतौली बाईपास रोड़ से गिरफ्तार किया गया-
(1) सतीश चैधरी पुत्र महेन्द्र सिह निवासी- गांव सदरपुर थाना सलेमपुर जिला बुलन्दशहर,
(2) अमित उर्फ फौजी पुत्र किरणपाल निवासी- यारपुर थाना भवन जिला शामली उ0प्र0,
(3) संजय उर्फ राजू पुत्र तेजवीर सिह निवासी- ग्राम बासोती थाना शिकारपुर जिला बुलन्दशहर उ0प्र0 (बर्खास्त सिपाही उ0प्र0),
(4)नितिन मलिक पुत्र सुरेन्द्र सिह निवासी- ग्राम कुरमाली थाना शामली उ0प्र0
(ट) सतेन्द्र पाल सिंह पुत्र शेरपाल सिंह निवासी ग्राम चांदपुर, थाना कोतवाली नगर बुलंदशहर, जिला बुलंदशहर, उ0प्र0
उपरोक्त गिरफ्तारशुदा अभियुक्तगण के कब्जे से सोने के कई आभूषण जिनका वजन लगभग 1.3 किलोग्राम व सफेद चांदी के विभिन्न जेवरात वजन लगभग 06 किलोग्राम व 10 लाख रूपये नगद, 01 पिस्टल 32 बोर मय 02 जिन्दा कारतूस 32 बोर, 03 तमंचे 315 बोर , 03 जिन्दा 315 बोर कारतूस बरामद किया गया।
गैंग लीडर सतीश उर्फ चैधरी द्वारा सोना व चांदी के कुछ जेवरात बुलन्दशहर निवासी जैकी सुनार को बेचना बताया गया है। घटना में शामिल अभि0 विकास उर्फ हिमाशुं व डकैती का माल खरीदने वाला सुनार जैकी फरार है, जिनकी सरगर्मी से तलाश जारी है।
गैंग के काम करने का तरीका- ताऊ गैंग के लीडर इन्द्रपाल चैधरी उर्फ ताऊ के जेल में बंद होने के कारण अब गैंग का नेतृत्व शातिर सतीश चैधरी कर रहा है। गैंग लीडर सतीश विभिन्न मामलों में वांछित ताऊ गैंग का सबसे सक्रिय व खतरनाक सदस्य है जो अपनी योजना के अनुसार गैंग के सभी सदस्यों को काम बांटकर घटना को अमलीजामा पहनाता है। घटना से पहले किसे कहां पहुंचना है इसकी जानकारी सिर्फ सतीश को ही रहती है। चैकिंग व सीसीटीवी कैमरों की नजर से बचने के लिए अपना वाहन छोड़ ऑटो इत्यादि के माध्यम से पहुंचता था घटनास्थल अपने गैंग में घटना से कुछ दिन पहले नये सदस्यों को इसलिए रखता था ताकि उनके पकड़े जाने पर भी स्वयं को पुलिस की पहुंच से दूर रख सके।
अभि0गण से पूछताछ पर प्रकाश में आया कि सतीश चैधरी उत्तर भारत के सबसे खूंखार ताऊ गैंग का सक्रिय सदस्य है। जो अक्सर शहर के मुख्य एवं व्यस्त इलाकों में बडी-2 लूट और डकैती की घटनाओं को अंजाम देता है। जिसके विरूद्ध उत्तर भारत के कई राज्यों में लूट और डकैती के अभियोग पंजीकृत है। ताऊ गैंग का गैंग लीडर इन्द्रपाल चैधरी काफी समय से जेल में बन्द है। इन्द्रपाल चैधरी उर्फ ताऊ के जेल जाने के बाद से ताऊ गैंग की कमान सतीश चैधरी ने संभाल ली है। सतीश चैधरी स्वयं बडे-2 शोरूम की रैकी कर घटना का प्लान तैयार करता है और फिर घटना को अंजाम देने के लिये अपने गैंग में नये लोगों को शामिल करता है। सतीश चैधरी घटना के बारे में अन्तिम समय तक किसी को भी कोई जानकारी नहीं देता है। ताऊ गैंग के सदस्य घटना से पूर्व ही अपने मोबाइल फोन बन्द कर देते हैं और सभी खतरनाक हथियारों से लैस होकर लूट व डकैती की घटनाओं को अंजाम देते है। इस गैंग ने आगरा, मथुरा ,दिल्ली, फरीदाबाद, हरियाणा, सूरत, गुजरात में लूट व डकैती की कई घटनाएं की है।
अभियुक्त सतीश किसी भी दुकान/शोरुम में बड़ी डकैती डालने से पहले कई बार रेकी कर दुकान में सामान की उपलब्धता, सुरक्षा व्यवस्था में खामियां व घटना कारित होने के बाद भागने के रास्तों के बारे में जानकारी व लूट करने के लिए सबसे बेहतर समय कौन सा रहेगा इत्यादि अनेकानेक बातों का ध्यान रखते हुए योजना तय करता है। घटना की योजना को गोपनीय रखते हुए केवल एक या दो लोगों से ही जानकारी साझा करते हुए आमतौर पर अपने गैंग में नये-नये सदस्यों को ही शामिल करता है जिससे कि पकड़े जाने पर सतीश के बारे में नए साथी पुलिस को जानकारी ना दे पायें। आमतौर पर इस गेंग के सदस्य किसी भी बड़ी वारदात को अंजाम देने से एक हफ्ते पहले अपना निवास बदल देते हैं, ताकि कोई इन पर शक ना कर सके।
►बहुचर्चित वेब सीरीज “मनी हाइस्ट” की तर्ज पर काम करता है यह गैंग
► डेढ़ वर्ष पूर्व भी इसी मोरा तारा ज्वैलर्स एवं रिलायंस ज्वैलर्स के यहां डकैती की थी योजना
► शोरुम में शीशों से काली फिल्म उतार कर पारदर्शी शीशे लगाने के कारण योजना करनी पड़ी रद्द
(सबक- शोरूम का शीशा पारदर्शी रखें तथा दुकान में सायरन अवश्य लगा हो)
► 08 राज्यों की पुलिस ढूंढ़ रही गैंग को, लेकिन हत्थे चढ़े “उत्तराखण्ड पुलिस” के
► उड़ीसा, दिल्ली, पंजाब, पश्चिम बंगाल, मध्यप्रदेश, हरियाणा, उत्तर प्रदेश व गुजरात सहित कई राज्यों में वांछित है ये गैंग
► ताऊ गैंग के मुख्य लीडर के जेल में बंद होने पर सतीश चैधरी को मिली थी गैंग की कमान
► वारदात करने से करीब 01 सप्ताह पहले गैंग के सदस्य बदल लेते हैं अपना निवास
► घटना को अंजाम देकर पलक झपकते ही हो जाते हैं फरार
► घटनास्थल पर आने व भागने के लिए बाइक, बस, ई-रिक्शा, ऑटो तथा एंबुलेस का किया गया इस्तेमाल
सतीश चैधरी गैंग –
संजय उर्फ राजू- संजय उर्फ राजू उत्तरप्रदेश पुलिस में 1998 में भर्ती हुआ था। वर्ष 2002/03 में हत्या के मामले में नामजद होने व वर्ष 2007 में माननीय न्यायालय द्वारा आजीवन कारावास की सजा सुनाए जाने के कारण सेवा से बर्खास्त चल रहा था। जो वर्तमान में तीन माह के पैरोल पर था।
अमित फौजी- इस गैंग सदस्य (अमित फौजी) का मुख्य कार्य लूट की घटना में इस्तेमाल होने वाली गाड़ियों को उपलब्ध कराना है। इस घटना में भी अमित फौजी द्वारा 02 चोरी के वाहनों की व्यवस्था की गई थी।
जैकी उर्फ प्रदीप राठौर- इस गैंग सदस्य का काम घटना के पूर्व प्रतिष्ठान में रखे माल की कीमत आंकने व घटना के पश्चात लूटे गये माल को ठिकाने लगाने का है।
सचिन उर्फ गुड्डू – इस गैंग सदस्य का काम लूट की घटना हेतु गैंग के अन्य सदस्यों के लिए अवैध अस्लाह ( पिस्टल एवं तमंचा) की व्यवस्था करने का है। यह अमित फौजी का भांजा लगता है।
सतेन्द्र पाल सिंह- लूट का माल ठिकाने लगाने वाला सुनार
नितिन मलिक- सतीश चैधरी गैंग का कोर सदस्य
हिमांशू त्यागी- सतीश चैधरी गैंग का कोर सदस्य। नये सदस्यों को भर्ती करना एवं सतीश चैधरी व नए सदस्यों के बीच कम्यूनिकेशन का माध्यम,
विकास उर्फ हिमांशू-सतीश चैधरी गैंग का कोर सदस्य, प्लानिंग, घटना करने व माल ठिकाने लगाने में कारखास
नाम पता गिरफ्तार अभियुक्तगण-
1. सतीश चैधरी पुत्र महेन्द्र सिह निवासी- गांव सदरपुर थाना सलेमपुर जिला बुलन्दशहर।
2. अमित उर्फ फौजी पुत्र किरणपाल निवासी- यारपुर थाना भवन जिला शामली उ0प्र0 हाल निवासी- म0न0 149/1 विजयनगर गाजियाबाद उम्र 28 वर्ष।
3. संजय उर्फ राजू पुत्र तेजवीर सिह निवासी- ग्राम बासोती थाना शिकारपुर जिला बुलन्दशहर उ0प्र0
4. नितिन मलिक पुत्र सुरेन्द्र सिह निवासी- ग्राम कुरमाली थाना शामली उ0प्र0।
5.सतेन्द्र पाल सिंह पुत्र शेरपाल सिंह निवासी ग्राम चांदपुर, थाना कोतवाली नगर बुलंदशहर, जिला बुलंदशहर, उ0प्र0
फरार अभि0गणः-
1. विकास उर्फ हिमाशुं निवासी-रोहणी दिल्ली।
2. जैकी उर्फ प्रदीप राठोर निवासी कोतवाली नगर बुलन्दशहर।
कुल बरामदगी माल-
1. सोने के जेवरात लगभग 01 किलो 300 ग्राम (कीमत लगभग 63,50,000/-रूपये)
2. चांदी के जेवरात लगभग 06 कि0ग्रा0 (कीमत लगभग 4,20,000/-रूपये)
3. 12,11,000/-रूपये नगद
4. एक पिस्टल 32 बोर, दो जिन्दा कारतूस 32 बोर
5. 05 तमंचे 315 बोर, 05 जिन्दा 315 बोर कारतूस
6. एक मोटर साइकिल स्प्लेण्डर बिना नम्बर (रंग काला) व दो अदद नम्बर प्लेट बरामद
आपराधिक इतिहास अभि0गणः-
अभि0 सतीश चैधरी-
1. मु0अ0सं0 167/2001 धारा 392/397/411/34 भादवि व 25/27/54/59 शस्त्र अधि0 थाना लाजपतनगर दिल्ली।
2. मु0अ0सं0 254/2008 धारा 395/397 भादवि व 25 शस्त्र अधि0 थाना सैक्टर 10 ए गुडगाॅव हरियाणा।
3. मु0अ0सं0 457/2009 धारा 392/411 भादवि थाना क्वासी अलीगढ।
4. मु0अ0सं0 46/2010 धारा 2/3 गैंगस्टर एक्ट थाना बाजपुर उधमसिंहनगर।
5.मु0अ0सं0 05/2010 धारा 395/397 भादवि थाना बाजपुर उधमसिंहनगर।
6. मु0अ0सं0 43/2010 धारा 307 भादवि थाना बाजपुर उधमसिंहनगर।
7. मु0अ0सं0 45/2010 धारा 25 शस्त्र अधि0 थाना बाजपुर उधमसिंहनगर।
8. मु0अ0सं0 693/2014 धारा 395/398/412/120 बी भादवि थाना कोतवाली बुलन्दशहर।
9.मु0अ0सं0 282/2015 धारा 2/3 गैंगस्टर एक्ट थाना कोतवाली बुलन्दशहर।
10.मु0अ0सं0 1351/2018 धारा 398/401 भादवि थाना खुर्जानगर बुलन्दशहर।
11. मु0अ0सं0 1352/2018 धारा 25 शस्त्र अधि0 थाना खुर्जानगर बुलन्दशहर।
अभि0 अमित फौजी-
1. मु0अ0सं0 2014 धारा 392/411 भादवि थाना लोनी गाजियाबाद उ0प्र0।
अभि0 संजय उर्फ राजू-
1. मु0अ0सं0 486/2002 धारा 302 भादवि थाना कल्याणपुरी दिल्ली।
अन्य अभि0गण का आपराधिक इतिहास ज्ञात किया जा रहा है।
पुलिस टीम-
1. श्रीमती कमलेश उपाध्याय पुलिस अधीक्षक नगर हरिद्वार।
2. श्री प्रदीप कुमार राय पुलिस अधीक्षक यातायातध्अपराध हरिद्वार।
3. श्री अभय कुमार सिह क्षेत्राधिकारी नगर हरिद्वार।
4. श्री चन्द्रचन्द्राकार नैथानी प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ज्वालापुर।
5. श्री यशपाल विष्ट प्रभारी निरीक्षक कोतवाली मंगलौर।
6. श्री प्रवीण कोश्यारी प्रभारी साईबर सैल पुलिस कार्यालय हरिद्वार।
7. श्री संजीव थपलियाल थानाध्यक्ष बहादराबाद हरिद्वार।
8. श्री रविन्द्र कुमार थानाध्यक्ष झबरेडा हरिद्वार।
9. व0उ0नि0 प्रमोद कुमार कोतवाली ज्वालापुर।
10. व0उ0नि0 राजेन्द्र सिह रावत थाना कनखल।
11. उ0नि0 आनन्द मेहरा चैकी प्रभारी बाजार कोतवाली ज्वालापुर।
12. उ0नि0 खेमेन्द्र गंगवार चैकी प्रभारी रेल कोतवाली ज्वालापुर।
13. उ0नि0 उमेश कुमार पुलिस लाइन हरिद्वार।
14. उ0नि0 दीपक चैधरी कोतवाली ज्वालापुर।
15. का0 30 हेमन्त कोतवाली ज्वालापुर।
16. का0 83 मनमोहन कोतवाली ज्वालापुर
17. का0 215 निर्मल रागड़ कोतवाली ज्वालापुर।
18. का0 1507 सतेन्द्र यादव कोतवाली ज्वालापुर।
19. का0 838 अमित गौड कोतवाली ज्वालापुर।
20. का0 दीपक कोतवाली ज्वालापुर।
21. का0 नूरहसन थाना झबरेडा।
सीआईयू हरिद्वार
1. उ0नि0 रणजीत सिह तोमर प्रभारी सीआईयू हरिद्वार।
2. हे0का0 सुन्दरलाल।
3. का0 विवेक कुमार।
4. का0 अजय कुमार।
5. का0 पदम सिह।
6. का0 हरवीर सिह रावत।
7. का0 मनोज कुमार।
8. का0 नरेन्द्र सिह।
9. का0 वसीम।
10. का0 उमेश।
सीआईयू रूड़की
1. उ0नि0 जहाॅगीर अली प्रभारी सीआईयू रूडकी।
2. हे0का0प्रो0 एहसान अली।
3. का0 सुरेश रमोला।
4. का0 अशोक कुमार।
5. का0 कपिल देव
6. का0 रविन्द खत्री।
7. का0 महिपाल सिह।
8. का0 नितिन कुमार।
एसटीएफ उत्तराखण्ड
1. श्री चन्द्रमोहन सिह अपर पुलिस अधीक्षक एसटीएफ उत्तराखण्ड।
2. श्री रवि सैनी निरीक्षक एसटीएफ उत्तराखण्ड।
3. उ0नि0 नरोत्तम विष्ट एसटीएफ उत्तराखण्ड।
4. उ0नि0 उमेश कुमार एसटीएफ उत्तराखण्ड।
5. हे0का0 देवेन्द्र भारती एसटीएफ उत्तराखण्ड।
6. हे0का0 हितेश कुमार
7. का0 संजय
8. का0 चमन
9. का0 कैलाश नयाल
10. का0 अनूप भाटी
11. का0 महेन्द्र विष्ट
12. का0 देवेन्द्र मंमगाई
13. का0 दीपक चन्दोला
14. का0 सुधीर केशला
रेंज टीम
1. उ0नि0 मौ0 यासीन परिक्षेत्रीय कार्यालय देहरादून।
2. उ0नि0 दिलवर सिह नेगी थानाध्यक्ष रायपुर देहरादून।
3. उ0नि0 धर्मेन्द्र रौतेला थानाध्यक्ष क्लेमन्टाउन देहरादून।
4. का0 दीपक थाना रायपुर देहरादून।
5. का0 सुनील पंवार थाना क्लेमन्टाउन देहरादून।

Leave a Reply

Your email address will not be published.