हरिद्वार समाचार– एनएच 58 से मिलती हुई शुभम विहार एवं द्वारिका विहार कॉलोनी है जो एक पुरानी आवासीय कॉलोनी गुरुकुल महाविद्यालय एवं गुरुकुल कांगड़ी के बीच स्थित है   ओर कॉलोनी आज तक विकास की राह देख रही है दुर्भाग्य है कि इस कॉलोनी में जनप्रतिनिधियों का आवागमन केवल चुनाव के समय ही होता है और अनेक वादे भी किए जाते हैं यहां तक कि कहा जाता है की कॉलोनी को  किसी नेता  जी ने गोद ले लिया था  लेकिन विकास का कोई नाम नहीं है दोनों कालोनियों में रहने वाले लोग कई तरह की परेशानियों का सामना करते  हैं जनप्रतिनिधि भी कॉलोनी के बारे में अच्छे से जानते है इस वर्ष अनेक योजनाओं में हर तरफ विकास कार्य हुए लेकिन शुभम विहार द्वारिका विहार कॉलोनी में कुछ कार्य नहीं हो पाया  शायद ऐसे मौके पर जनप्रतिनिधि इन कॉलोनियों को भूल जाते हैं यहां तक कि जब से एनएच का कार्य शुरू हुआ है यहां के कॉलोनी वालों को कहीं आने जाने की भी एक बड़ी समस्या है कई लोगों को हाईवे पर जाने के लिए चोट भी   खानी पड़ती है क्या कारण है इन कॉलोनियों की दुर्दशा का जबकिइस कालोनी में हर वर्ग के  परिवार रहते है  इसे लेकर कॉलोनी वासियों में आक्रोश है कहीं चुनाव के समय यह अनदेखी जनप्रतिनिधियों के  लिया मुसीबत ना बन जाए 

Leave a Reply

Your email address will not be published.