हरिद्वार समाचार– जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय की अध्यक्षता में कैम्प कार्यालय में राज्य स्तरीय अनुश्रवण समिति की बैठक आयोजित हुई।
बैठक में जिलाधिकारी को सहायक श्रमायुक्त ने बताया कि गत 26 अगस्त,2021 को भारत सरकार ने असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कामगारों के लिये एक पोर्टल लांच किया है, जिसमें असंगठित क्षेत्र जैसे-रिक्शा चालक, रेहड़ी, ठेली लगाने वाला, ठेकेदार के माध्यम से कार्य करने वाले कामगार आदि का इस पोर्टल में पंजीकरण कराके, इन सबका एक डाॅटाबेस तैयार करना है।
जिलाधिकारी ने बैठक में कहा कि यह एक पुनीत कार्य है तथा असंगठित क्षेत्र के हित में यह बहुत अच्छा काम हो रहा है। उन्होंने कहा कि इसमें सम्बन्धित विभागों, यूनियनों, गैर सरकारी संगठनों आदि की भागीदारी महत्वपूर्ण है।
श्री विनय शंकर पाण्डेय ने कहा कि इस कार्य में काॅमन सर्विस सेण्टर की महत्वपूर्ण भूमिका है। इसलिये काॅमन सर्विस सेण्टर से जुड़े लोगों को तहसील, ब्लाक स्तर पर प्रशिक्षण बहुत आवश्यक है। इसलिये काॅमन सर्विस सेण्टर से जुड़े लोगों के लिये प्रशिक्षण की व्यवस्था की जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि यह प्रशिक्षण 20 सितम्बर,2021 तक पूरा जाना चाहिये। उन्होंने कहा कि पंजीकरण कराने के लिये जिला तथा काॅमन सर्विस सेण्टर स्तर पर शिविरों का भी आयोजन किया जाये।
जिलाधिकारी ने इस योजना के व्यापक प्रचार-प्रसार पर जोर देते हुये कहा कि इसके लिये जगह-जगह होर्डिंग लगाई जायें तथा सोशल मीडिया का भी इस कार्य में सहयोग लिया।
इस अवसर पर नगर आयुक्त श्री दयानन्द सरस्वती, मुख्य वित्त अधिकारी श्री वीरेन्द्र कुमार, ए0सी0एम0ओ0 डाॅ0 एच0डी शाक्य, सहायक निदेशक, मत्स्य, श्री अनिल कुमार, सहायक श्रमायुक्त, श्री अरविन्द सैनी, जिला समाज कल्याण अधिकारी श्री अमन अनिरूद्ध, बीडीओ भगवानपुर कुसुम डोबरियाल, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी बाल विकास विभाग श्री रमेश चन्द्र रतूड़ी, कामगार वेलफेयर एसोसिएशन के श्री विनोद कुमार, श्री शिवम अरोड़ा, श्री मदन सिंह खालरा, महामंत्री जिला हरिद्वार ईंट भट्टा मजदूर यूनियन आदि उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published.