हरिद्वार। श्री सुशील कुमार, आयुक्त गढ़वाल मण्डल की अध्यक्षता में शुक्रवार को हरिद्वार-रूड़की विकास प्राधिकरण के सभागार में एचआरडीए की 74वीं बोर्ड बैठक आयोजित हुई।
बोर्ड बैठक में सचिव हरिद्वार-रूड़की विकास प्राधिकरण श्री उत्तम सिंह चौहान ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से 72वीं तथा 73वीं बोर्ड बैठक की कार्यवाही की पुष्टि, पार्कों के सौन्दर्यीकरण, मौ0 कड़च्छ से लेकर गुरूद्वारा रोड ज्वालापुर तक नाले का सुदृढ़ीरकण, आशफनगर रूड़की में मिश्रित अवासीय परियोजना तैयार किये जाने, प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत इन्द्रलोक आवासीय योजना भाग-2 में दुर्बल आय वर्ग के भवनों का निर्माण सहित हरिद्वार-रूड़की विकास प्राधिकरण का वित्तीय वर्ष 2022-23 का प्रस्तावित आय-व्ययक अनुमोदनार्थ प्रस्तुत किया गया।
बैठक में बताया गया कि हरिद्वार क्षेत्रान्तर्गत 88 पार्कों में से 74 के सौर्न्यीकरण का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है। एमएनए हरिद्वार ने बैठक में भगत सिंह चौक के पास खाली पड़ी बीएचईएल की भूमि को ग्रीन एरिया के रूप में विकसित करने पर चर्चा की, जिस पर आयुक्त गढ़वाल मण्डल ने बीएचईएल से उक्त भूमि के लिये एनओसी प्राप्त करने के निर्देश दिये।  मौ0 कड़च्छ से लेकर गुरूद्वारा रोड ज्वालापुर तक नाले का सुदृढ़ीरकण के सम्बन्ध में अधिकारियों ने बताया कि नाले का कार्य चल रहा है तथा नाले के निर्माण लागत में बढ़ोत्तरी को देखते हुये एक कमेटी का गठन किया गया है। इस पर आयुक्त गढ़वाल मण्डल ने कमेटी की रिपोर्ट के अनुसार अग्रिम कार्यवाही करने के निर्देश अधिकारियों को दिये।
श्री सुशील कुमार, आयुक्त गढ़वाल मण्डल ने बोर्ड बैठक में रूड़की के ग्राम आसफनगर में क्रय की गयी भूमि पर मिश्रित आवासीय परियोजना के सम्बन्ध में जानकारी ली। इस पर अधिकारियों ने बताया कि डीपीआर तैयार करने की कार्यवाही गतिमान है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत इन्द्रलोक अवासीय योजना भाग-2 में दुर्बल आय वर्ग के लिये बनाये जाने वाले 528 भवनों के निर्माण की प्रगति आयुक्त गढ़वाल मण्डल द्वारा पूछे जाने पर अधिकारियों ने बताया कि कार्य प्रारम्भ हो गया है तथा मार्च,2023 तक इस अवासीय परियोजना को पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है।
आयुक्त गढ़वाल मण्डल ने बैठक में प्राधिकरण द्वारा विकसित हरिलोक कॉलोनी के सम्बन्ध में जानकारी ली तथा हरिलोक कॉलोनी को पूर्व में दिये गये निर्देशानुसार नगर निगम हरिद्वार को हस्तांतरित करने के निर्देश दिये।
बोर्ड बेैठक में आयुक्त गढ़वाल मण्डल ने प्राधिकरण के कौन-कौन से आय के साधन हैं, के सम्बन्ध में भी विस्तृत जानकारी अधिकारियों से ली।
बैठक में सराय रोड ज्वालापुर स्थित ट्रांसपोर्ट नगर योजना, श्यामलोक आवासीय योजना एवं मंगलौर आवासीय योजना के अन्तर्गत भू-उपयोग परिवर्तित किया जाना, व्यावसायिक मानचित्रों को स्वैच्छिक शमन योजना के अन्तर्गत होटल में परिवर्तित किये जाने, फिलिंग स्टेशन हेतु मानचित्र स्वीकृत किये जाने, गु्रप हाउसिंग परियोजना के स्थान पर होटल का मानचित्र स्वीकृत किया जाना, हरिद्वार सीवरेज योजना में इन्दलोक योजना भाग-1 तथा ट्रांसपोर्ट योजना में भूमि उपलब्ध कराने, प्राधिकरण के लिये लैण्ड बैंक विकसित किये जाने, अनिस्तारित रिक्त भवनों का पुनर्मूल्यांकन किया जाना, संविदा पर तैनात कार्मिकों का पारिश्रमिक/मानदेय बढ़ाया जाना, मानचित्रकारों का एकाधिकार आदि पर विस्तृत चर्चा हुई तथा दिशा-निर्देश प्रदान किये गये।
इस अवसर पर जिलाधिकारी/उपाध्यक्ष हरिद्वार-रूड़की विकास प्राधिकरण श्री विनय शंकर पाण्डेय, अध्यक्ष नगर पालिका शिवालिक नगर श्री राजीव शर्मा, संयुक्त मजिस्ट्रेट रूड़की श्री अंशुल सिंह, एस0डी0एम0 श्री पूरन सिंह राणा, एमएनए श्री दयानन्द सरस्वती, मुख्य कोषाधिकारी सुश्री नीतू भण्डारी, श्री एस.एम. श्रीवास्तव, वरि. टी.ओ. हरिद्वार सुश्री प्रवीन कौर, अधिशासी अभिंयता सिचाई, श्री शंकर कुमार साहा, जिला पयर्टन अधिकारी सुरेश कुमार यादव, श्री चिरंजी लाल सहित सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published.