देहरादून समाचार– जिलाधिकारी डाॅ0 आर राजेश कुमार ने आज विभिन्न स्थानों पर स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत यातायात नियन्त्रण किये जाने हेतु सीसीटीवी कैमरे स्थापित किये गये है जिनके माध्यम से आवागमन सुचारूपूर्वक चलाये जाने में मदद मिलेगी।
इस परिपेक्ष्य में जिलाधिकारी डाॅ0 आर राजेश कुमार ने आज दिलाराम चैक पर स्थापित यातायात संचालन हेतु स्थापित किये गये सीसीटीवी कैमरे की गतिविधियों के सम्बन्ध में स्मार्ट सिटी परियोजना के अधिकारियों से जानकारी प्राप्त की। बताया गया कि शहर के विभिन्न स्थानों पर 49 सीसीटीवी कैमरे स्थापित किये गये जिनके माध्यम से यातायात पर नियन्त्रण करने की कार्य योजना चलाई जा रही है, उन्होंने बताया कि विभिन्न स्थानों पर लगाये गये सीसीटीवी कैमरों का नियन्त्रण स्मार्ट सिटी के आईटी पार्क कार्यालय के नियन्त्रण कक्ष से की जा रही है। जिलाधिकारी ने स्मार्ट सिटी लोनिवि तथा यातायात पुलिस को आवश्यक निर्देश जारी किये। उन्होंने कहा कि पैदल आवागमन करने वाले राहगीरों के सड़क क्रास करने के लिए जेब्रा क्रासिंग का कार्य तत्काल किया जाए। उन्होंने स्मार्ट सिटी परियोजना द्वारा यातायात नियन्त्रण हेतु अपनाये जा रहे उपायों पर नाराजगी जताते हुए तत्काल एक्टिवेट कर सभी आवश्यक व्यवस्थाएं करायें। इसी प्रकार ओएनजीसी चैक पर स्थापित यातायात नियन्त्रण हेतु लगाये गये सीसीटीवी कैमरों की गतिविधियों की जानकारी ली। बताया गया कि सिस्टम के माध्यम से लाईन क्रास करने वाले वाहनों का स्वतः चालान की प्रक्रिया अपनाई जा रही है साथ ही नियन्त्रण कक्ष से सीधा सम्पर्क भी स्थापित किया जा सकता है।
इसके उपरान्त जिलाधिकारी बलवीर रोड का निरीक्षण करने पहुंचे यहां पर स्मार्ट सिटी परियोजना द्वारा पेयजल पाईप लाईन हेतु रोड को खोदा गया है। जिससे दुर्घटनाऐं हो रही है। क्षेत्रीय वासियों द्वारा जिलाधिकारी का ध्यान इस ओर आकृष्ठ करते हुए बताया कि बलवीर रोड में जगह-जगह पर सड़क में कई स्थानों पर पेयजल लाईन डालने हेतु सड़क खोदी गई है, तथा किस विभाग द्वारा निर्माण कार्य किया जा रहा है। इसके सम्बन्ध में सम्बन्धित विभाग/कार्यदाई संस्था का पूर्ण विवरण टेलीफोन आदि वोर्ड लगाया जाए ताकि क्षेत्रवासी सम्बन्धित विभाग को शिकायत/सूझाव दे सकें।  इस पर जिलाधिकारी ने क्षेत्रीय  लोगों को आश्वस्त किया कि कार्यादाई संस्था द्वारा बिना अनुमति के यदि सड़क खोदी गई है और उससे दुर्घटनाऐं हो रही है तो सम्बन्धित के खिलाफ आवश्यक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। जिलाधिकारी ने साथ में चल रहे स्मार्ट सिटी परियोजना के अधिकारियों एवं कार्यदाई संस्था के कार्यों पर नाराजगी जताई तथा सड़क खोदे जाने की अनुमति एवं दुर्घटना में घायल लोगों के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की लापरवाही कतई क्षम्य नहीं होगीं। उन्होंने कार्यदाई संस्था को तत्काल कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।
जिलाधिकारी के भ्रमण के दौरान स्मार्ट सिटी परियोजना के वित्त नियन्त्रक अभिषेक आनंद, एजीएम जे. एस. चैहान, श्रीराम उनियाल, ट्रेफिक पुलिस व सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published.