हरिद्वार: डॉ0 धन सिंह रावत, मा0 मंत्री, उच्च शिक्षा, विद्यालयी शिक्षा, संस्कृत शिक्षा, सहकारिता, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा की अध्यक्षता में शनिवार को रोशनाबाद स्थित स्वास्थ्य विभाग के सभागार में डेंगू के सम्बन्ध में एक समीक्षा बैठक आयोजित हुई। 
बैठक में मा0 चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री को प्रस्तुतीकरण के माध्यम से डेंगू रोधी कार्य योजना के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी दी गयी तथा डेंगू की रोकथाम के लिये आगामी महीनों के लिये, विभागीय स्तर पर जो तैयारी की जा रही है, के सम्बन्ध में भी विस्तार से बताया गया। 
मा0 कैबिनेट मंत्री ने समीक्षा बैठक में अधिकारियों से वर्ष 2010 से लेकर अब तक जनपद में किस वर्ष डेेंगू के कितने मामले सामने आये, कौन से ऐसे क्षेत्र हैं, जहां पर हर वर्ष अन्य क्षेत्रों के मुकाबले ज्यादा मामले सामने आते हैं, के सम्बन्ध में जानकारी लेते हुये निर्देश दिये कि जहां पर डेंगू का प्रकोप ज्यादा होता है, ऐसे क्षेत्रों पर विशेष ध्यान देना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि आगामी माह-अगस्त से लेकर नवम्बर तक हमें डेंगू के प्रति विशेष सतर्क रहना होगा। उन्होंने बैठक में कहां-कहां डेंगू के जांच केन्द्र हैं, डेंगू रोगियों के उपचार व रेफरल की क्या व्यवस्था है, ब्लड बैंकों की व्यवस्थायें आदि के सम्बन्ध में जानकारी लेते हुये अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने अधिकारियों से दवा, बजट आदि के सम्बन्ध में भी जानकारी ली, जिस पर अधिकारियों ने बताया कि कहीं पर भी किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं है। 
डॉ0 धन सिंह रावत ने अधिकारियों को ये भी निर्देश दिये कि डेंगू के रोकथाम के लिये शहरी विकास, ग्रामीण विकास, बाल विकास विभाग, शिक्षा विभाग, नगर निगम, नगर निकाय, स्थानीय निकाय, रेलवे विभाग, स्वयं सेवी संस्थाओं आदि सभी से तालमेल स्थापित करते हुये सहयोग लेना सुनिश्चित करें तथा डेंगू के प्रति सभी माध्यमों-प्रिण्ट, इलेक्ट्रोनिक, सोशल मीडिया, पम्फलेट आदि का इस्तेमाल करते हुये व्यापक जन-जागरूकता अभियान चलाया जाये।
बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 कुमार खगेन्द्र, चिकित्साधीक्षक डॉ0 राजेश गुप्ता, चिकित्साधीक्षक रूड़की डॉ0 संजय कंसल, डॉ0 चन्दन मिश्रा, डॉ0 सुबोध जोशी, डॉ0 विक्रान्त सिरोही, डॉ0 गंभीर तालियान, डॉ0 आर0के0 सिंह, डॉ0 दिल्लीरमन, डॉ0 अचिन्तन गर्ग, डॉ0 अनिल वर्मा, डॉ0 मनीष कुमार, सुश्री ऊषा बिष्ट सहित सम्बन्धित अधिकारीकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.