हरिद्वार: श्री  सतपाल महाराज मा0 मंत्री लोक  निर्माण  विभाग, पर्यटन, सिंचाई, लघु  सिंचाई, पंचायती राज, ग्रामीण  निर्माण, संस्कृति जलागम प्रबन्धन एवं भारत-नेपाल उत्तराखण्ड नदी परियोजनायें एवं जनपद प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट सभागार में जिला योजना संरचना 2022-23 की बैठक आयोजित हुई।  
बैठक में अनुमोदन हेतु प्रस्तावित जिला योजना संरचना वर्ष 2022-23 के सम्बन्ध में विस्तृत विचार-विमर्श हुआ, जिसमें सामान्य मद हेतु 3888.00 लाख रूपये, अनुसूचित जाति हेतु 1030.00 लाख रूपये एवं अनुसूचित जनजाति हेतु 24.00 लाख रूपये प्रस्तावित करते हुये कुल 4942.00 लाख रूपये की धनराशि अनुमोदित की गयी।    
बैठक में डॉ0 रमेश पोखरियाल निशंक, मा0 सांसद हरिद्वार, श्री नरेश  बंसल  मा0 सांसद राज्य  सभा, डॉ0 कल्पना सैनी मा0 सांसद राज्यसभा, श्री प्रदीप बत्रा मा0 विधायक रूड़की, श्री मोहम्मद शहजाद मा0 विधायक लक्सर, श्री आदेश चौहान, मा0 विधायक, रानीपुर, सुश्री अनुपमा रावत मा0 विधायक  हरिद्वार ग्रामीण, श्री शरबत करीम अंसारी, मा0 विधायक, मंगलौर, श्री रवि बहादुर, मा0 विधायक, ज्वालापुर, सुश्री ममता राकेश, मा0 विधायक, भगवानपुर, श्री वीरेन्द्र जाती, मा0 विधायक, झबरेड़ा, श्री फुरकान अहमद, मा0 विधायक, पिरान कलियर, श्री उमेश कुमार, मा0 विधायक खानपुर ने अपने-अपने संसदीय  क्षेत्रों/विधान सभा क्षेत्रों में विभिन्न विभागों द्वारा कराये जा रहे कार्यों के सम्बन्ध में चर्चा करते हुये  विस्तृत विचार-विमर्श  किया।
अधिकांश मा0 विधायकों ने पेयजल की समस्या की ओर मा0 जनपद प्रभारी मंत्री का ध्यान  आकृष्ट करते हुये बताया कि जब से जल जीवन मिशन के अन्तर्गत हर घर नल से जल पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है, तब से  हैण्डपम्पों की ओर  ध्यान नहीं  दिया जा रहा है। इस पर जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय ने बताया कि हैण्डपम्पों के लिये 70 लाख रूपये की धनराशि की व्यवस्था  बजट में की गयी है, जिस पर टिप्पणी  करते हुये मा0 विधायकों ने कहा कि यह धनराशि काफी कम है।  जनपद प्रभारी मंत्री श्री सतपाल महाराज ने सभी पक्षों को सुनने के पश्चात बताया कि हैण्डपम्पों के लिये  धनराशि को बढ़ाया जायेगा।
बैठक में सुश्री अनुपमा रावत मा0 विधायक हरिद्वार ग्रामीण ने उनके विधान सभा क्षेत्र में मुख्य  सड़कों पर प्रकाश की व्यवस्था करने, शौचालयों का निर्माण, घरों की छतों के ऊपर से बिजली के तारों को हटाया जाना, पानी का  ओवर हैड टैंक ठीक कराया जाना, नहर  की मरम्मत आदि के सम्बन्ध में अपना पक्ष रखा। श्री प्रदीप बत्रा रानीपुर विधायक ने सोलर लाइट लगाये  जाने, सुश्री ममता राकेश ने बाल वाटिका में पंखे लगाये जाने, नियमित बिजली उपलब्ध  कराने  तथा रसायनयुक्त पानी आने का मामला रखा।  जनपद प्रभारी मा0 मंत्री ने रसानयुक्त पानी  की जांच  कराने तथा आवश्यकतानुसार बिजली उपलब्ध कराने के  निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को  दिये।
खानपुर विधायक श्री  उमेश कुमार ने गंगा नदी व सोनाली नदी के तटबन्ध एवं चिकित्सा केन्द्र  के उच्चीकरण का मामला बैठक में रखा । उन्होंने तटबन्ध पर कराये गये कार्यों की  जांच कराने को कहा। इस पर जनपद प्रभारी मंत्री ने परीक्षण कराने की बात कही।  श्री फुरकान अहमद, मा0 विधायक, पिरान कलियर ने विधायक निधि से  उपलब्ध कराई गयी एम्बुलेंस के लिये ड्राईवर उपलब्ध कराने  की बात कही। इस  पर  सीएमओ ने  कहा कि एम्बुलेंस  के  लिये ड्राईवर उपलब्ध कराया गया है।  श्री मोहम्मद शहजाद मा0 विधायक लक्सर ने चिकित्सा केन्द्र का उच्चीकरण तथा बिना टंकी बनाये पहले से ही पानी की पाइप लाइन बिछाने के लिये जगह-जगह सड़कें खोदने का  प्रकरण बैठक में रखा। इस  पर जिलाधिकारी ने कहा कि ऐसे स्थानों की सूची उपलब्ध करा दें तथा इस सम्बन्ध में जांच कर कार्रवाई की जायेगी।
जिला योजना संरचना की बैठक में सदस्यगणों ने भी अपने-अपने पक्ष रखे। इस  पर जिलाधिकारी ने कहा कि सभी सदस्यों द्वारा उपलब्ध कराये गये प्रस्तावों को संसाधनों के अनुसार स्वीकृत किया गया है, जिस  पर जनपद प्रभारी मंत्री ने कहा कि वित्तीय संसाधन सीमित हैं, उसी के अनुसार हमें  कार्य करना है।
मा0 कैबिनेट मंत्री श्री सतपाल महाराज ने जिला योजना संरचना की बैठक को सम्बोधित करते हुये कहा कि इसमें  महत्वपूर्ण सुझाव प्राप्त हुये हैं, जितने  सुझाव प्राप्त  हुये हैं, उन्हें अमलीजामा पहनाया जायेगा,जिसके लिये आप सभी का अमूल्य सहयोग चाहिये। बिजली की रोस्टिंग का जिक्र करते हुये उन्होंने कहा कि बिजली की कटौती कम से कम हो इस सम्बन्ध में मा0 मुख्यमंत्री से आग्रह किया जायेगा।
कांवड मेले का उल्लेख करते हुये श्री सतपाल महाराज ने कहा कि इसमें चार करोड़  से अधिक श्रद्धालु कांवड़ियों के आने की संभावनायें हैं, जिसके सकुशल सम्पादन के लिये  भी आप  सभी  का  सहयोग बहुत आवश्यक है। उन्होंने कहा  कि  हमारा  पूरा प्रयास होना चाहिये कि कांवड़ मेला पूरी तरह से नशामुक्त हो तथा चारों तरफ  प्रेम व सद्भाव का वातावरण हो। हरिद्वार के चहुंमुखी विकास  के बारे मंे उन्होंने कहा कि इसके विकास के लिये हम  कटिबद्ध हैं तथा मा0 मुख्यमंत्री  द्वारा हरिद्वार के लिये जो  भी  घोषणायें  की गयी हैं, उनकी जल्दी ही  समीक्षा करके, उन्हें शीघ्र ही धरातल पर उतारा जायेगा।  
बैठक में जिलाध्यक्ष भाजपा डॉ0 जयपाल सिंह चौहान निवर्तमान मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 सौरभ गहरवार, परियोजना निदेशक श्री विक्रम सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 कुमार खगेन्द्र, डीएसटीओ सुश्री नलिनी ध्यानी, अपर जिला संख्याधिकारी श्री लख्मीचन्द, जिला पंचायतराज अधिकारी श्री अतुल प्रताप सिंह, मुख्य उद्यान अधिकारी श्री नरेन्द्र यादव, मुख्य कृषि अधिकारी श्री विजय देवराड़ी,  मुख्य पशुपालन अधिकारी डॉ0 योगेश भारद्वाज, ए0आर0 कोआपरेटिव श्री राजीव, सहायक परियोजना निदेशक सुश्री नवनीत घिल्डियाल, भाजपा मीडिया प्रभारी श्री लव शर्मा, जिला पर्यटन अधिकारी, जिला  क्रीड़ाधिकारी, श्री अभिषेक सिंह चौहान सहित सम्बन्धित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। 

बैठक के पश्चात गुरूकुल यूनिवर्सिटी के सामने एडीबी द्वारा कांवड़ियों के लिये निर्मित रैन बसेरे का निरीक्षण किया तथा अधिकारियों को दिशा-निदेश दिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.