देहरादून13 जुलाई-  जिलाधिकारी डाॅ आर राजेश कुमार द्वारा जनपद में भिक्षावृत्ति एवं बालश्रम रोकने हेतु नियमित छापेमारी किये जाने तथा इस कार्य में संलिप्त लोगों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए हैं।
जिलाधिकारी के निर्देशों के अनुपालन में आज डोईवाला, भानियावाला व जौलीग्रांट चैक में भिक्षावृत्ति उन्मूलन अभियान चलाया गया जिसमें कुल 11 बालक बालिकाओं को टीम द्वारा रेस्क्यू कर जिला बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत किया गया। इस अभियान में जिला प्रोबेशन कार्यालय से संपूर्ण भट्ट रश्मि बिष्ट प्रवीण चैहान, समर्पण संस्था से मानसी मिश्रा, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण व मैक संस्था से शमीना, चाइल्ड लाइन से जसवीर रावत, बचपन बचाओ आंदोलन से सुरेश उनियाल, रेलवे चाइल्ड लाइन से सविता, आसरा ट्रस्ट से सुरेश, एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट से धर्मेंद्र, व रचना, डोईवाला थाने से शशिकांत, हंसराज आदि मौजूद रहे ।
जिलाधिकारी डाॅ0 आर राजेश कुमार ने बताया कि जनपद में भिक्षावृत्ति एवं बालश्रम रोकने हेतु नियमित छापेमारी कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए है, तथा इसमें संलिप्त लोगों पर निर्धारित प्राविधानों के अनुरूप सख्त कार्यवाही की जाएगी। साथ ही जो बालक/बालिकाएं भिक्षावृत्ति करते पाए गए है उनके परिजनों से सम्पर्क करने का प्रयास किया जा रहा है, जिससे उनको उनके परिजनों के सुपुर्द्ध करते हुए मूल राज्य को भेजा जाएगा।
      ज्ञातव्य है कि 8 बच्चों को उनके माता पिता के सुपुर्द किया गया तथा माता पिता को चेतावनी दी गई कि दुबारा बच्चे भिक्षावृति करते न पाए जाए तथा 2 बालकों को समर्पण केयर सेंटर तथा 1 बालिका को बालिका निकेतन में रखा गया। रेसक्यू किए गए बच्चों में 4 बालक एवं 1 बालिका डोईवाला चैक से तथा 4 बालक भानियावाला चैक से तथा 1 बालक व 1 बालिका जौलीग्रान्ट चैक से भिक्षावृति करते पाए गए थे

Leave a Reply

Your email address will not be published.