देहरादून– जनपद में पेट्रोल/डीजल की किल्लत को लेकर जनमानस के मध्य फैलाई जा रही अफवाह को गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी डाॅ0 आर राजेश कुमार ने एचपीसीएल, इण्डियन ऑयल कार्पोरेशन लिमिटेड ( IOCL    ), भारत पेट्रोलियम के अधिकारियों के साथ बैठक कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने तेल कंपनियों के प्रतिनिधियों को जनपद में तेल आपूर्ति को गंभीरता से लेने तथा डिस्ट्रिक कार्डिनटर एचपीसीएल, इण्डियन ऑयल कार्पोरेशन लिमिटेड ( IOCL    ), भारत पेट्रोलियम को प्रत्येक रिटेल आउटलैट के स्टाॅक/उठान/वितरण की दैनिक सूचना जिला पूर्ति कार्यालय को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
बैठक में जिलाधिकारी ने एचपीसीएल के डीजीएम रिटेल से एचपीसीएल के कुछ पेट्रोल पम्प पर सोमवार को हुई तेल किल्लत का कारण पूछा जिस पर उन्होंने बताया कि डिपो से पूर्ण सप्लाई वाहन  समय से न पहुंच पाने के कारण यह स्थिति बनी। जिस पर जिलाधिकारी ने सभी तेल कम्पनियों के पदाधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि भविष्य में इस प्रकार की लापरवाही न हो साथ ही सप्लाई चेन व्यवस्थित रखें साथ ही पेट्रोल की किल्लत संबंधी भ्रामक सूचना देने वाले आउटलैट पर अपने स्तर से कार्यवाही करें। भविष्य में इस प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी।
जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि पेट्रोल/डीजल की किल्लत को लेकर आम जनमानस के मध्य अफवाह फैलाई जा रही है कि जिले में पेट्रोल/डीजल की किल्लत बनी है। जबकि जिला पूर्ति अधिकारी एवं स्थानीय प्रशासन से जांच करने पर पाया गया कि इण्डियन ऑयल कार्पोरेशन लिमिटेड ( IOCL    ) तथा भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड ( BPCL    ) के पम्पों पर डीजल/पेट्रोल की आपूर्ति सुचारू रूप से संचालित की जा रही है डीजल/पेट्रोल का स्टॉक पर्याप्त है। इस सम्बन्ध में जिला पूर्ति अधिकारी एवं तेल कम्पनी के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की गई है बैठक में अधिकारियों द्वारा अवगत कराया गया कि  IOCL     एवं  BPCL     द्वारा मांग के अनुसार पर्याप्त आपूर्ति की जा रही है किन्तु  HPCL     के कुछ पम्पों में तेल की कमी होने से अन्य पम्पों पर दबाव अधिक बड़ा है जिस सम्बन्ध में  HPCL     के अधिकारियों द्वारा शीघ्र ही स्थिति को सामान्य किये जाने हेतु निर्देशित किया गया है।

 उक्त के सम्बन्ध में समस्त उप जिलाधिकारियों, जिला पूर्ति अधिकारी एवं तेल कम्पनी के अधिकारियों को निर्देश दिये गये है कि उक्त के सम्बन्ध में भ्रामक सूचना अथवा अफवाह फैलाने वाले के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाए।
बैठक में जिला पूर्ति अधिकारी जे.एस कण्डारी, एचपीसीएल के डीजीएम दीपक कौशिक, इंडियन आयल के सहायक प्रबंधंक भरत सिक्का, सप्लाई इंस्पैक्टर सुनील देवली, एचपीसीएल से चारू धर्मसत्तू सहित संबंधित तेल कंपनियांे के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.