हरिद्वार: डॉ0 रमेश पोखरियाल ’’निशंक’’ मा0 सांसद, हरिद्वार की अध्यक्षता में मेला नियंत्रण भवन(सीसीआर) में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक आयोजित हुई।
बैठक में जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय एवं मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 सौरभ गहरवार ने जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) के उद्देश्यों के सम्बन्ध में विस्तृत प्रकाश डाला। अमृत योजना पेयजल रूड़की के सम्बन्ध में जानकारी देते हुये अधिकारियों ने बताया कि चार में से तीन योजनायें अगले महीने में पूरी हो जायेंगी, इस पर मा0 सांसद हरिद्वार ने कार्य की प्रगति पर नाराजगी प्रकट करते हुये कहा कि किसी भी योजना को पूरा करने के लिये जितनी समयावधि रखी गयी है, वह उतने समय में पूर्ण हो जानी चाहिये। उन्होेने कहा कि कार्य प्रणाली में सुधार लाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि पानी की गुणवत्ता पर भी ध्यान देना बहुत जरूरी है। बैठक में जन-प्रतिनिधियों ने ग्रामीण इलाकों में हैण्डपम्पों पर भी ध्यान देने की बात कही। इस पर मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि हैण्डपम्पों के लिये भी बजट में प्राविधान किया जाता है।
बैठक में फोर लेन हरिद्वार-नगीना खण्ड राष्ट्रीय राजमार्ग के सम्बन्ध में एनएचआई नजीबाबाद के अधिकारियों ने मा0 सांसद हरिद्वार को बताया कि इसमें 61 प्रतिशत कार्य हो चुका है तथा वन विभाग की वजह से इसकी प्रगति धीमी रही। इस पर मा0 सांसद हरिद्वार ने कार्य में तेजी लाने के निर्देश देते हुये दूधाधारी चौक के पास चल रहे फ्लाई ओवर के कार्य में भी तेजी लाने, नारसन से मंगलौर तक राष्ट्रीय राजमार्ग पर जो कट हैं, उन्हें बन्द करने तथा राष्ट्रीय राजमार्गों पर लगाई गयी स्ट्रीट लाइटों की व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त रखने के भी निर्देश दिये। एनएच लोक निर्माण के अधिकारियों ने बताया कि उनके चार कार्यों में से दो कार्यों की प्रगति 94 प्रतिशत है तथा सभी कार्य अक्टूबर,2022 तक पूर्ण कर लिये जायेंगे। इस पर मा0 सांसद, हरिद्वार ने युद्ध स्तर पर कार्य करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। बैठक में हरिद्वार रिंग रोड की चर्चा करते हुये अधिकारियों ने मा0 सांसद, हरिद्वार को बताया कि पचास प्रतिशत भूमि का कब्जा अभी लेना है तथा प्रक्रिया गतिमान है। इस पर मा0 सांसद, हरिद्वार ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि हरिद्वार रिंग रोड काफी अच्छी बननी चाहिये। अधिकारियों ने यह भी बताया कि इसके अलावा हरिद्वार के लिये अन्य सड़कों के निर्माण की कार्य योजना तैयार की जा रही है। एनएचआई रूड़की के अधिकारियों ने बताया कि मानकपुर होते हुये दिल्ली-देहरादून के लिये जो कारिडोर बन रहा है, उसमें भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई चल रही है।
डॉ0 रमेश पोखरियाल ’’निशंक’’ को बैठक में ब्रिडकुल के अधिकारियों ने बताया कि पिरान कलियर में 90 प्रतिशत कार्य हो चुका है । इसमें अब केवल एक पुल बनना शेष है। मा0 सांसद हरिद्वार ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि आपसी समन्वय स्थापित करते हुये कार्य में तेजी लाना सुनिश्चित करें।
प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के सम्बन्ध में बताते हुये अधिकारियों ने कहा कि इसके अन्तर्गत पांच सड़कों का निर्माण किया जाना था, जिनका निर्माण पूर्ण हो चुका है। बैठक में रोशनाबाद से बिहारीगढ़ को जो सड़क जाती है, के सम्बन्ध में भी चर्चा हुई। इस सम्बन्ध में बताया गया कि इस सड़क पर पड़ने वाले पुल के नीचे अवैध खनन के कारण पुल को खतरा पैदा हो गया है। इस पर मा0 सांसद हरिद्वार ने सम्बन्धित के खिलाफ जिम्मेदारी तय करके कार्रवाई करने के निर्देश दिये।
बैठक में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने मा0 सांसद हरिद्वार को स्वास्थ्य विभाग के ढांचे के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी दी। इस पर मा0 सांसद हरिद्वार ने शासन के उच्चाधिकारियों से फोन के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग के सम्बन्ध में चर्चा करते हुये हुये, स्वास्थ्य विभाग की जो भी समस्यायें हैं, उन्हें जल्द से जल्द दूर करने के निर्देश दिये। आयुष्मान भारत के बारे में अधिकारियों ने मा0 सांसद हरिद्वार को बताया कि इस योजना के अन्तर्गत अभी तक एक लाख दस हजार लोगों को लाभान्वित किया जा चुका है। इस पर मा0 सांसद हरिद्वार ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि इसका व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये तथा ये भी निर्देश दिये कि पैनल में रजिस्टर्ड अस्पताल इलाज करने में हीलाहवाली करता है, तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाये।
पावर कारपोरशन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि हम 133 तोकों में बिजली पहुंचा चुके हैं तथा गोर्धन में बिजली घर का निर्माण किया गया है। मा0 सांसद हरिद्वार ने बैठक में सौभाग्य योजना के अन्तर्गत जो लाभान्वित हुये हैं, उनकी सूची उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिये। नमामि गंगे योजना के अन्तर्गत अधिकारियों ने बताया कि इस योजना के अन्तर्गत सात योजनायें चल रही थीं, जो पूर्ण हो चुकी हैं। इस पर मा0 सांसद हरिद्वार ने अधिकारियों से कहा कि नमामि गंगे योजना के अन्तर्गत निरन्तर कार्य करते रहने की आवश्यकता है।
नगर निगम रूड़की के अधिकारियों ने बताया कि निगम की पांच योजनाओं में से चार पूरी हो चुकी हैं तथा शेष एक भी जल्दी पूरी हो जायेगी। नगर निगम हरिद्वार के अधिकारियों ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत काफी सकारात्मक परिणाम सामने आये हैं। इस पर मा0 सांसद हरिद्वार ने कहा कि हरिद्वार में आवास की ऐसी योजना बननी चाहिये, जिससे अधिक से अधिक लोगों के घर होने का सपना पूरा हो सके। उन्होंने कहा कि हरिद्वार को साफ-सुथरा व व्यवस्थित होना चाहिये। उन्होंने एचआरडीए तथा नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे संयुक्त रूप से इस सम्बन्ध में योजना बनाना सुनिश्चित करें, जिसमें राज्य सरकार तथा भारत सरकार का पूरा सहयोग प्राप्त होगा।
जिला खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की समीक्षा करते हुये मा0 सांसद हरिद्वार ने खाद्य विभाग की कार्य प्रणाली पर नाराजगी प्रकट की तथा इसमें सुधार लाने के निर्देश दिये। बैठक में समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों ने वृद्धावस्था पेंशन, दिव्यांग पेंशन, विधवा पेंशन, परित्यक्ता पेंशन आदि पर विस्तृत विचार-विमर्श हुआ। इस पर मा0 सांसद हरिद्वार ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि किसी भी अपात्र को पेंशन नहीं मिलनी चाहिये। ऐसे अधिकारियों की जिम्मेदारी तय होनी चाहिये। महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों ने बताया कि ऑन लाइन के कारण शुरूआती दौर में थोड़ी प्रगति धीमी रही। आगे तेज गति से कार्य किया जा रहा है। शिक्षा विभाग के अधिकारियों को बैठक में मा0 सांसद हरिद्वार ने निर्देशित किया कि वे स्कूलों में अवस्थापना सुविधा का अधिक से अधिक विकास करना सुनिश्चित करें।  
बैठक में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना, राष्ट्रीय सम्पोषणीय योजना, जैविक कृषि को बढावा देना, जल जीवन मिशन, डिजिटल इण्डिया, जिला उद्योग, मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण एवं शहरी, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, समृद्ध प्रसाद ग्रोथ सेण्टर, दीन दयाल ग्रामीण कौशल योजना आदि की विस्तृत समीक्षा की गयी।
बैठक में डॉ0 रमेश पोखरियाल ’’निशंक’’ मा0 सांसद, हरिद्वार ने कहा कि हम सभी को आपसी समन्वय स्थापित करते हुये टीम भावना से कार्य करना है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार जिले ने कुछ क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि हम जितने सशक्त होंगे, हमारी टीम भी उतनी ही सशक्त होगी।
बैठक में डॉ0 रमेश पोखरियाल ’’निशंक’’ मा0 सांसद, हरिद्वार को जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय ने स्वयं सहायता समूहों द्वारा निर्मित गंगाजलि भी भेंट की,जिसकी मा0 सांसद हरिद्वार ने भूरि-भूरि प्रशंसा की।  
इस अवसर पर रानीपुर विधायक श्री आदेश चौहान, रुड़की विधायक श्री प्रदीप बत्रा, भगवानपुर विधायक सुश्री ममता राकेश, ज्वालापुर विधायक श्री  रवि बहादुर सिंह, पूर्व विधायक कुंवर प्रणव सिंह चौंपियन, जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय, मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 सौरभ गहरवार, एडीएम श्री बीर सिंह बुदियाल, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट रूड़की श्री अंशुल सिंह, परियोजना निदेशक श्री विक्रम सिंह, एमएनए श्री दयानंद सरस्वती, प्रभारी एमएनए रूड़की श्री विजय नाथ शुक्ला, सीएमओ श्री कुमार खगेंद्र, अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण, श्री सुरेश तोमर अधिशासी अभियन्ता सिंचाई सुश्री कोमल सिंह, मुख्य कृषि अधिकारी श्री विजय देवराड़ी, लक्सर नगर पालिका अध्यक्ष श्री अमरीश गर्ग, मेयर हरिद्वार श्रीमती अनीता शर्मा, वरिष्ठ अभियंता पीडब्ल्यूडी श्री एस.के. गर्ग, अधिशासी अभियन्ता एन एच देहरादून श्री जितेंद्र त्रिपाठी, एनएच हरिद्वार अधिशासी अभियन्ता श्री प्रदीप गुसाईं, सहित समस्त विभागों के अधिकारी मौजूद थे।
…………………

 
 
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.