हरिद्वार समाचार— जिलाधिकारी हरिद्वार श्री विनय शंकर पाण्डेय की अध्यक्षता में तहसील भगवानपुर में तहसील दिवस का आयोजन किया गया, जिसमें आम जनता की समस्याओं एवं शिकायतों का निस्तारण किया गया। तहसील दिवस में आज कुल 40 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, जिनको संबंधित विभागों/अधिकारियों को समयबद्ध-दो दिन, तीन दिन, एक सप्ताह, दस दिन, पन्द्रह दिन, प्रकरण के निस्तारण में लगने वाले समय के अनुसार, निस्तारित करने के निर्देश जिलाधिकारी ने दिये।
जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय ने सर्वप्रथम भगवानपुर तहसील परिसर पहुंचने पर अधिकारियों से पिछले तहसील दिवस में प्राप्त शिकायतों के निस्तारण के संबंध में विस्तृत जानकारी ली। सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों ने उनके विभाग से सम्बन्धित जो शिकायत प्राप्त हुई थी, के बारे में जिलाधिकारी को जानकारी दी।
श्री विनय शंकर पाण्डेय ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे दो दिन के भीतर पिछले तहसील दिवस में आई शिकायतों व उसके निस्तारण की पूरी समीक्षा रिपोर्ट देना सुनिश्चित करें।
तहसील दिवस में आज ग्राम डाडा जलालपुर निवासी श्रीमती छोटी ने मनरेगा अंतर्गत किये गये कार्य का भुगतान न किये जाने तथा जाॅब कार्ड न बनाये जाने की शिकायत की। इस पर  जिलाधिकारी ने बीडीओ भगवानपुर को दो दिन में मामले का निस्तारण करने के निर्देश दिये। ग्राम मानक मजरा, हाल्लूमजरा निवासी श्री नाथीराम ने अपनी कृषि भूमि में सिंचाई हेतु विद्युत कनेक्शन हेतु जाने वाली विद्युत लाइन तीन माह से बन्द पड़ी होने की शिकायत दर्ज करायी, जिस पर जिलाधिकारी ने एसडीओ भगवानपुर को 03 दिन के अन्दर विद्युत लाइन चालू करने के निर्देश दिये।
समस्त ग्रामवासी मौजा इब्राहिमपुर मसाही व मौजा सिकरौढ़ा प्रथम व द्वितीय ने परगना व तहसील भगवानपुर के अभिलेखों का रिकार्ड चकबन्दी प्रक्रिया के कारण चकबन्दी दफ्तर नहर किनारे रूड़की में होने के कारण ग्रामीणों को नकल, खतौनी आदि कार्य में होने वाली परेशानियों के दृष्टिगत भगवानपुर के अभिलेखों का रिकार्ड चकबन्दी दफ्तर भगवानपुर में किये जाने हेतु अपनी समस्या रखी। इस पर जिलाधिकारी ने भगवानपुर के चकबन्दी रिकार्ड रूड़की के स्थान पर भगवानपुर में नियमानुसार स्थानांतरित करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये।
शिवपुरम पनियाला निवासी श्री सुदेश कान्त द्वारा पीडब्ल्यूडी द्वारा शिवपुरम पनियाला रोड़ रूड़की में गली नं0 10 में अधूरा नाला बनाकर छोड़ने तथा उसका पानी खाली प्लाॅटों में भरने के कारण बीमारी फैलने का खतरा होने की शिकायत दर्ज करायी, जिस पर जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय ने संबंधित ई0ई0 पीडब्ल्यूडी को शिकायत निस्तारण के निर्देश दिये।
ग्राम हबीबपुर निवादा पोस्ट व तहसील भगवानपुर निवासियों द्वारा श्मशान घाट बनाने की मांग पर जिलाधिकारी ने इस सम्बन्ध में मुख्य विकास अधिकारी हरिद्वार को कोई न कोई हल निकालने के निर्देश दिये। ग्राम रायपुर निवासी जोनी कुमार ने आबादी क्षेत्र से विद्युत ट्रान्सफार्मर हटाने के सम्बन्ध में अनुरोध किया, जिस पर जिलाधिकारी ने संबंधित अधिशासी अभियंता को ट्रान्सफार्मर शिफ्ट करने संबंधी आगणन प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।
ग्राम नागल पलूनी निवासी श्री अनिल कुमार ने विकास संबंधी कार्याें में अनियमितता बरतने तथा अपात्रों को आवास योजना का लाभ देने की शिकायत दर्ज करायी। इस संबंध मंे जिलाधिकारी ने बीडीओ भगवानपुर को प्रकरण की जांच करने तथा दस दिन के अन्दर जांच आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। ग्राम झींवरहेड़ी मजरा शिकोहपुर निवासी श्री संजीत कुमार ने छः माह से खराब पड़े सरकारी हैंड पम्प को ठीक कराने हेतु आवेदन दिया। इस पर जिलाधिकारी ने सम्बन्घित विभाग को हैण्डपम्प ठीक कराने के निर्देश दिये।  तेजूपुर निवासी श्री नरपाल ने फसल की सिंचाई के लिए सरकारी योजना से पाइप लाइन लगवाने के सम्बन्ध में अनुरोध किया। इस पर जिलाधिकारी ने पांच दिन में रिर्पोट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।
 ग्राम सिकरौढ़ा के निवासियों द्वारा राशन कार्ड वितरित न किये जाने की शिकायत दर्ज करायी। इस पर जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी को सात दिन के भीतरं राशन कार्ड बनवाने के निर्देश दिये।
ग्राम लालवाला मजबता निवासी श्री रोहताश ने भी गांव के राशन डीलर द्वारा राशन न देने  तथा नियमित रूप से राशन दुकान न खोलने की शिकायत दर्ज करायी, जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी को इस संबंध में सात दिन में जांच कर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये।
ग्राम सिकरौढ़ा के निवासियों द्वारा भगवानपुर -सिकरौढ़ा मार्ग को ग्राम खेलड़ी से सिकरौढ़ा तक लगभग 03 किलोमीटर मार्ग बहुत ज्यादा खराब होने की शिकायत दर्ज करायी। इस संबंध में जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी हरिद्वार को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। ग्राम लालवाला मजबता व बन्दरजूड़ मजाहिदपुर निवासियों द्वारा गाँव में सड़क की चैड़ाई कम होने की वजह से हो रही दिक्कत के बारे में बताया। इस पर जिलाधिकारी ने एस0डी0एम0 भगवानपुर को रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।
इसके अतिरिक्त तहसील दिवस में जमीन की पैमाइश, अवैध कब्जे, मनरेगा के अन्तर्गत कार्य कराये जाने, नेशनल हाइवे के सर्विस लेन पर जाम, चकरोड को कब्जा मुक्त कराने, प्रधान मंत्री आवास योजना में आवास दिलाने आदि से सम्बन्धित प्रार्थना पत्र/शिकायतें भी प्राप्त हुईं, जिनका भी निराकरण करने के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया।  
इस अवसर पर विधायक भगवानपुर श्रीमती ममता राकेश, मुख्य विकास अधिकारी डाॅ0 सौरभ गहरवार, एस0पी0 देहात श्री प्रमेन्द्र डोभाल, एसडीएम भगवानपुर श्री बृजेश तिवारी, परियोजना निदेशक श्री आर0सी0 तिवारी, मुख्य शिक्षा अधिकारी श्री वी0एस0 चतुर्वेदी, जिला पूर्ति अधिकारी श्री के0के0 अग्रवाल, मुख्य पशुपालन अधिकारी डाॅ0 योगेश भारद्वाज, सहायक निदेशक डेयरी श्री पियूष आर्य, मुख्य कृषि अधिकारी श्री विजय देवराड़ी, जिला विकास अधिकारी श्री पुष्पेन्द्र सिंह चैहान, तहसीलदार भगवानपुर सुश्री रेखा आर्य, अधिशासी अभियन्ता ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग श्री रामजी लाल एवं लोक निर्माण विभाग, विद्युत, जल संस्थान सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published.