हरिद्वार समाचार– निरंजनी अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने बताया कि महाकुंभ 2021 दिव्य व भव्य रूप से संपन्न होगा। महाकुंभ के दौरान पूर्व की भांति ही अखाड़ों की छावनियां स्थापित की जाएंगी। महामण्डलेश्वर नगर और अन्य सभी शिविर भी लगाए जाएंगे। इसके लिए सरकार की ओर से अखाड़ों व संतों को सरकार की ओर से सुविधा प्रदान की जाएगी। इस संबंध में जल्द ही सरकार की ओर से आदेश जारी कर दिए जाएंगे। आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने बताया कि श्री दक्षिण काली मंदिर में कुंभ मेला अधिकारी दीपक रावत से हुई वार्ता के दौरान उन्होंने जानकारी दी है कि पूर्व में संपन्न हुए कुंभ मेलों की भांति ही 2021 कुंभ में भी सभी पंडाल, शिविर और अखाड़ों की छावनी लगेंगी। सभी संतो को पूर्व की भांति सरकारी सुविधा एवं सरकारी पंडाल बनने की अनुमति मिल जाएगी। कोरोना गाइडलाईन का पालन करते हुए 2021 कुंभ को पूर्व की भांति दिव्य व भव्य रूप से संपन्न कराया जाएगा। इस दौरान स्वामी आनंद गिरी महाराज ने कहा कि महाकुंभ मेला पूरे विश्व में भारतीय संस्कृति व सनातन धर्म की पहचान को व्यक्त करने वाला महापर्व है। आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी के नेतृत्व में महाकुंभ 2021 भव्य व दिव्य रूप से संपन्न होगा। इस दौरान स्वामी राधाकांताचार्य, आचार्य पवनदत्त मिश्र, स्वामी अनुरागी महाराज, अवंतकानंद ब्रह्मचारी, कृष्णानंद ब्रह्मचारी, बालमुकुंद ब्रह्मचारी, पंडित प्रमोद पाण्डे आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.