हरिद्वार समाचार– विजयदशमी के अवसर पर सन्यास मार्ग कनखल स्थित रामेश्वर आश्रम के मंदिर में भव्य श्रीराम दरबार की स्थापना कर विधि-विधान के साथ हवन पूजन कर भगवान श्रीराम, माता सीता, लक्ष्मण व हनुमान जी की प्रतिमाओं की प्राण प्रतिष्ठा की गई। इस दौरान मुख्य यजमान के रूप में न्यायाधीश श्रेय गुप्ता परिवार सहित मौजूद रहे। श्रीराम दरबार के दर्शन करने के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। इस अवसर पर श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए आश्रम के परमाध्यक्ष महामण्डलेश्वर स्वामी रामेश्वरानन्द सरस्वती महाराज ने कहा कि विश्व कल्याण की भावना से भगवान श्रीराम दरबार की स्थापना की गयी है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार में सर्वप्रथम रामेश्वर आश्रम में राम मंदिर की स्थापना की गयी है। असत्य पर सत्य की विजय के प्रतीक दशहरे के अवसर पर मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा कर भगवान श्रीराम से देश दुनिया को कोरोना महामारी से मुक्ति प्रदान करने की कामना की गयी। भगवान श्रीराम की कृपा से जल्द ही भारत सहित पूरे विश्व से कोरोना महामारी समाप्त होगी। मानव कल्याण का मार्ग प्रशस्त होगा। उन्होने कहा कि दशहरे के पवित्र अवसर पर सभी को भगवान श्रीराम के जीवन चरित्र को आत्मसात कर आदर्श समाज बनाने का संकल्प लेना चाहिए। महामण्डलेश्वर स्वामी गिरधर गिरी एवं स्वामी योगानन्द महाराज ने कहा कि पौराणिक काल से ही पूरे विश्व का मार्गदर्शन करने वाली भारत की महान ऋषि परम्परा और संतों के सानिध्य में ही कल्याण का मार्ग प्रशस्त होता है। इस अवसर पर महामंडलेश्वर स्वामी गिरधर गिरी, महामंडलेश्वर स्वामी विवेकानंद, स्वामी रविदेव शास्त्री, स्वामी हरिहरानंद, स्वामी दिनेश दास, महंत रामानंद, महंत सुतिक्ष्ण मुनि, स्वामी ब्रह्म स्वरूप ब्रह्मचारी, सतपाल ब्रह्मचारी, स्वामी योगानंद, गंगा विशन गुप्ता, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, आम आदमी पार्टी नेता नरेश शर्मा, महापौर अनिता शर्मा, अशोक शर्मा, आदेश चैहान एवं ट्रस्टी गण अजय गोयल, अतुल गर्ग, पंकज सिंघल, सज्जन कुमार, सुरेश, विपुल, दीनदयाल, विकास गोयल आदि सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु भक्त मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.