हरिद्वार समाचार– हरिद्वार आए गुयाना के राजदूत चरणदास प्रसाद ने श्री दक्षिण काली मंदिर में पूजा अर्चना की और आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज से आशीर्वाद लिया। इस दौरान राजदूत चरणदास प्रसाद ने स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज को भगवान श्रीकृष्ण की प्रतिमा भी भेंट कर विश्व शांति की कामना की। स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने राजदूत चरणदास प्रसाद को मां की चुनरी और नारियल भेंटकर आशीर्वाद प्रदान करते हुए कहा कि सनातन धर्म और भारतीय संस्कृति से पूरी दुनिया के लोग प्रभावित हो रहे हैं। गुयाना और भारत की संस्कृति में कई समानताएं हैं। दोनों देशों के आपसी संबंध काफी मजबूत हैं। भारत में गुयाना के राजदूत चरणदास प्रसाद धार्मिक प्रवृत्ति के व्यक्ति हैं। मां दक्षिण काली व गंगा मैया की कृपा से वे सफलताओं के नए आयाम प्राप्त करेंगे। मां भगवती की कृपा से गुयाना समृद्धि को प्राप्त करेगा और वहां के लोगों का जीवन सुखी होगा। श्री पंच निर्मोही अनी अखाड़े के अध्यक्ष श्रीमहंत राजेंद्रदास महाराज ने राजदूत चरणदास प्रसाद को आशीर्वाद देते हुए कहा कि शांति व सद्भाव का संदेश देने वाले सनातन धर्म और भारतीय संस्कृति को पूरी दुनिया में अपनाया जा रहा है। धर्म प्रचार कर लोगों को सद्मार्ग की प्रेरणा देने वाले संत महापुरूषों के सानिध्य में ही व्यक्ति के कल्याण का मार्ग प्रशस्त होता है। राजदूत चरणदास प्रसाद ने कहा कि हरिद्वार में गंगा तट पर आकर वे स्वयं को अभिभूत महसूस कर रहे हैं। श्री दक्षिण काली मंदिर में पूजा अर्चना व संतों का आशीर्वाद प्राप्त करना बेहद सुखद अहसास है। यहा आकर एक अविस्मरणीय अनुभव महसूस हुआ। पावन गंगा नदी, हिमालय की तलहटी ,असंख्य मठ-मंदिरो व संतो के सानिध्य मे मुझे यादगार अनुभव की प्राप्ति हुई। जिसे शब्दों मे बयाँ करना मुमकिन नही। सौ वर्ष से भी पुराने श्री दक्षिण काली मन्दिर व इमारत को देख के भी मै अभिभूत हूं। भारत वर्ष की समृद्ध आध्यात्मिक, धार्मिक,विभिन्नता व संस्कृति की विश्व भर मे अलग पहचान है। इस दौरान पंडित प्रमोद पांडे, आचार्य पवन दत्त मिश्र, लाल बाबा, स्वामी अवंतिका नंद ब्रह्मचारी, कृष्णानंद ब्रह्मचारी, बाल मुकुंदानंद ब्रह्मचारी, स्वामी कमलेश्वरानंद, स्वामी अनुरागी महाराज आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.