हरिद्वार, 22 जुलाई। निरंजन पीठाधीश्वर आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने कहा कि श्रावण मास में भगवान शिव भक्तों पर विशेष कृपा बरसाते हैं। जो श्रद्धालु भक्त पूरे श्रावण मास नियमित रूप से भगवान शिव का जलाभिषेक करता है। भगवान भोलेनाथ उसके सभी मनोरथ पूर्ण करते हैं। विश्व कल्याण के लिए श्री दक्षिण काली मंदिर में पूरे श्रावण मास चलने वाली विशेष शिव आराधना के दौरान उपस्थित श्रद्धालु भक्तों को आशीर्वचन प्रदान करते हुए स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने कहा कि श्रावण में भगवान शिव की आराधना का विशेष महत्व है। श्रावण में शिव पूजन करने से सहस्त्र गुणा पुण्य फल की प्राप्ति होती है। शिव कल्याणकारी हैं और भक्तों पर सदैव कृपा करते हैं। शिव आराधना करने वाले साधक का जीवन बदल जाता है। शिव कृपा से सभी कष्ट दूर हो जाते हैं और जीवन भवसागर से पार हो जाता है। उन्होंने कहा कि सभी श्रद्धालुओं को पूरे श्रावण मास भगवान शिव का जलाभिषेक अवश्य करना चाहिए। श्रावण मास में की गयी भगवान शिव की आराधना कभी निष्फल नहीं जाती है और अपनी शरण में आने वाले श्रद्धालु भक्त का भगवान शिव अवश्य कल्याण करते हैं। इस दौरान भगवान शिव की भव्य आरती की गयी। जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु भक्त शामिल रहे। इस अवसर पर स्वामी रघुवीरानन्द, स्वामी अवंतिकानंद ब्रह्मचारी, स्वामी विवेकानंद ब्रह्मचारी, स्वामी कृष्णानंद ब्रह्मचारी, महंत लालबाबा, बाल मुकुंदानंद ब्रह्मचारी, स्वामी अनुरागी महाराज, पुजारी सुधीर पाण्डे सहित सैकड़ों श्रद्धालु भक्त उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.