हरिद्वार समाचार– अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि सोमवार को वे स्वयं बैरागी कैंप का दौरा कर वैष्णव संतों को उपलब्ध करायी जा रही सुविधाओं का निरीक्षण करेंगे। अखाड़ा परिषद अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि कुंभ मेले का एक शाही स्नान संपन्न हो चुका है। कुंभ मेला अब गति पकड़ रहा है। ऐसे में मेला प्रशासन का दायित्व है कि वह सभी तेरह अखाड़ों को समान रूप से सुविधाएं उपलब्ध कराए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने कुंभ मेले के प्रति जो आस्था व्यक्त की है। प्रधानमंत्री और गृहमंत्री का यह निर्णय सराहनीय है। नवनियुक्त मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत स्वयं मेला व्यवस्थाओं पर नजर रख रहे हैं। जिससे कार्यो में गति आयी है। बैरागी अखाड़ों को भूमि आवंटन कार्य भी शुरू हो गया है। उम्मीद है जल्द ही सभी कार्य पूरे हो जाएंगे। नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि बैरागी अखाड़ों के संतों के अलावा संयासी अखाड़ों की समस्याओं को भी मेला प्रशासन के माध्यम से समान रूप से हल कराने के प्रयास तेजी से किए जाएंगे। भेदभावपूर्ण नीति किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। हरिद्वार में होने वाला कुंभ मेला भारतीय सनातन परंपरांओं का केंद्र बिन्दु है। मेले की दिव्यता, भव्यता, आलोकिकता को लेकर संत महापुरूष संगठित होकर काम कर रहे हैं। मेला प्रशासन भी लगातार अखाड़ों मठ, मंदिरों के प्रबंधकों से समन्वय स्थापित कर समस्याओं का निस्तारण कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.