हरिद्वार समाचार– तपोनिधि पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी के महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने कहा कि मां की शक्ति से बड़ी कोई शक्ति नहीं है। मां की शरण में जो श्रद्धालु भक्त सच्ची श्रद्धा लेकर आता है। मां उसकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं। श्री दक्षिण काली मंदिर में श्रद्धालु भक्तों को संबोधित करते हुए स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने कहा कि गंगाा तट पर स्थित सिद्ध पीठ श्री दक्षिण काली मंदिर में साक्षात रूप से विराजमान मां भगवती की आराधना करने से साधक से सभी कष्ट दूर हो जाते हैं। परिवार में सुख समृद्धि का वास होता है। मां की कृपा से जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में सफलता प्राप्त होती है। उन्होंने कहा कि अनादि काल से स्थित श्री दक्षिण काली मंदिर देश भर के श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है। देश के सभी राज्यों से श्रद्धालु मां के दर्शन व पूजा अर्चना के लिए मंदिर पहुंचते हैं। श्रद्धापूर्वक पूजा अर्चना करने वालों से प्रसन्न होकर मां दक्षिण काली भक्तों की सभी मुराद पूरी करती है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार के गंगा तट पर होने वाला कुंभ मेला विश्व का सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन है। अखाड़ा परिषद, संत समाज, मेला प्रशसन व सरकार के संयुक्त समन्वय से कुंभ मेला दिव्य व भव्य रूप से सकुशल संपन्न होगा। कोरोना काल के चलते कुंभ की तैयारियां कुछ प्रभावित हुई हैं। लेकिन जल्द ही सभी व्यवस्थाएं पूरी कर ली जाएंगी। अखाड़े व संत समाज अपनी ओर से कुंभ की तैयारियों में जुटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि कुंभ मेला केवल गंगा स्नान करने का पर्व ही नहीं है। बल्कि गंगा को स्वच्छ, निर्मल व अविरल बनाने का संकल्प लेने का भी अवसर है। सभी को गंगा स्वच्छता के प्रति जागरूक होकर अपने कर्तव्य का निर्वहन करना चाहिए। सभी के सहयोग से ही गंगा को स्वच्छ व निर्मल बनाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.