हरिद्वार- भारतीय किसान यूनियन अंबावता के राष्ट्रीय अध्यक्ष चैधरी ऋषिपाल अंबावता ने कहा कि सरकार जल्द से जल्द एमएसपी पर गारंटी कानून लागू करे। अलकनंदा मैदान पर शुरू हुए भाकियू अंबावता के तीन दिवसीय अधिवेशन के पहले दिन देश भर से आए किसानों को संबोधित करते हुए चैधरी ऋषिपाल अंबावता ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकारों की उदासीनता के चलते देश के अन्नदाता किसान की हालत लगातार खराब होती जा रही है। सरकार किसानों के हित में कदम उठाए जाने की बजाए जुमलेबाजी कर रही है। किसानों की दशा सुधारने के लिए स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू कर किसान आयोग का गठन किया जाए। किसानों की मांग के अनुरूप एमएसपी पर गारंटी कानून लागू किया जाए। सरकार की कथनी और करनी में अंतर को किसान समझ चुके हैं। अंबावता ने कहा कि पूरे देश में किसानों के लिए पेंशन स्कीम लागू की जाए। बढ़ती महंगाई पर रोक लगायी जाए। खाद व अन्य कृषि से संबंधित वस्तुओं पर सब्सिडी दी जाए। डीजल व खाद के दामों में हो रही निरंतर बढ़ोतरी से किसान परेशान है। डीजल व खाद के दामों में बढ़ोतरी पर रोक लगायी जाए। जिससे किसानों को राहत मिल सके। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि ईवीएम पर रोक लगायी और चुनाव बैलेट पेपर से कराए जाएं। अंबावता ने कहा कि तीन तक चलने वाले अधिवेशन में देश के सभी राज्यों से आए यूनियन के पदाधिकारी किसानों की समस्याओं पर चिंतन मनन कर आगे की रणनीति तैयार करें। इस अवसर पर उत्तराखण्ड प्रदेश अध्यक्ष कीरत सिंह, युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष फरमान त्यागी, राष्ट्रीय महिला अध्यक्ष रश्मि चैधरी, जिला अध्यक्ष सागर सिंह, हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष दिलबाग सिंह हुड्डा, उत्तर प्रदेश अध्यक्ष सचिन शर्मा, दिल्ली प्रभारी मुकेश सोलंकी, गाजियाबाद प्रभारी अमित कसाना, राष्ट्रीय प्रवक्ता ब्रजेश भाटी, प्रदेश उपाध्यक्ष यास्मीन खान, राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष राजपाल पुनिया, गुजरात प्रदेश अध्यक्ष अरविन्द गोल, आन्ध्र प्रदेश अध्यक्ष वाजिद अली, रामपाल अंबावता, शमशेर सिंह दहिया, जोगेंद्र, योगेश, नरेंद्र बंसल आदि सहित बड़ी संख्या में किसान मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.