हरिद्वार। जिलाधिकारी हरिद्वार श्री विनय शंकर पाण्डेय की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट सभागार में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत राष्ट्रीय कृमि मुक्ति सप्ताह कार्यक्रम आयोजन के सम्बन्ध में जिला समन्वय समिति की बैठक आयोजित हुई।
बैठक में जिलाधिकारी को मुख्य चिकित्साधिकारी एवं एसीएमओ ने बताया कि राष्ट्रीय कृमि मुक्ति सप्ताह के अन्तर्गत 01 से 19 आयु वर्ग के सभी बच्चों को आगामी 18 अप्रैल से 23 अप्रैल,2022 तक कृमि मुक्ति की दवा-एल्बेंडाजॉल मुफ्त में खिलाई जायेगी, जिसके अन्तर्गत राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस-18 और मॉपअप दिवस-19 अप्रैल को जनपद के सभी स्कूलों और आंगनबाड़ी केन्द्रों में आयोजित किया जायेगा, जो बच्चे इन दोनों दिनों में दवा खाने से वंचित रह जायेंगे, उन्हें आंगनबाड़ी कार्यकर्तायें घर-घर जाकर 20 से 23 अप्रैल,2022 तक कृमि मुक्ति की दवा-एल्बेंडाजॉल खिलायेंगी। अधिकारियों ने यह भी अवगत कराया कि जनपद में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति सप्ताह के अन्तर्गत 1 से 19 आयु वर्ग के 7,53,474 बच्चों को कृमि मुक्ति की दवा-एल्बेंडाजॉल खिलाने का लक्ष्य रखा गया है।
जिलाधिकारी द्वारा कृमि मुक्ति की दवा-एल्बेंडाजॉल के चिह्नित स्थानों पर पहुंचाने की व्यवस्था के बारे में पूछे जाने पर अधिकारियों ने बताया कि यह दवा आगामी 14 अप्रैल,2022 तक जनपद के सभी विकास खण्डों में तथा 15 से 17 अप्रैल,2022 तक सभी शिक्षण संस्थानों तथा आंगनबाड़ी केन्द्रों में पहुंच जायेगी।
जिलाधिकारी द्वारा मदरसों में कृमि मुक्ति की दवा-एल्बेंडाजॉल खिलाने के सम्बन्ध में पूछे जाने पर अधिकारियों ने बताया कि मदरसा प्रबन्धन को इस सम्बन्ध में पूरी जानकारी सहित सूचित कर दिया गया है।
श्री विनय शंकर पाण्डेय द्वारा कृमि मुक्ति की दवा-एल्बेंडाजॉल खिलाने की ट्रेनिंग के बारे में पूछे जाने पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि इसके लिये राज्य स्तर से संकुल स्तर तक ट्रेनिंग की व्यवस्था है।
जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि कृमि मुक्ति की दवा-एल्बेंडाजॉल खिलाने के लिये आयोजित होने वाले राष्ट्रीय कृमि मुक्ति सप्ताह का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 कुमार खगेन्द सिंह, एसीएमओ डॉ0 पंकज कुमार जैन, मुख्य शिक्षा अधिकारी श्री एस0पी0 सेमवाल, डीपीआरओ श्री अतुल प्रताप सिंह, जिला युवा अधिकारी श्री हिमांशु सिंह, स्वास्थ्य विभाग से जुड़े हुये अधिकारीगण सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published.