हरिद्वार  -हरिद्वार क्षेत्र में लगातार मिल रही वेश्यावृत्ति की सूचनाओं पर आज नोडल एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट पुलिस उपा अधीक्षक श्रीमती रीना राठौर एवं एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट प्रभारी निरीक्षक श्री नरेंद्र सिंह बिष्ट द्वारा एक बड़ी कार्रवाई अमल में लाई गई प्रभारी निरीक्षक एंटी ह्यूमन क्षेत्र में मिल रही अवैध वेश्यावृत्ति की सूचना पर एक बड़े सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया लगातार मिल रही सूचनाओं पर कार्रवाई करते हुए  टीम द्वारा आज कोतवाली ज्वालापुर क्षेत्र अंतर्गत सुरागरस्सीकरते हुए मुखबिर के माध्यम से यूनिट के सदस्यों द्वारा एक बड़ी कार्रवाई करते हुए शहर के बीचोबीच स्थित नामी  गोविंदपुर कॉलोनी  में बने होटल डिवाइन गंगा में काफी समय से संचालित सेक्स रैकेट मैं छापेमारी की गई।
 आज दिनांक 26.4 2022 को अवैध रूप  देश के विभिन्न राज्यों से लाई गई महिलाओं को इस होटल सेक्स रैकेट की सरगना उमा उर्फ पूजा को उस समय धर दबोचा जब वह होटल में वेश्यावृत्ति का धंधा चला रही थी  उक्त महिला को ट्रैप कर यह कार्रवाई अमल में लाई गई एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग ने टीम ने जाल बिछाते हुए महिला को उसी के जरिए बनाए गए  चक्रव्यूह में फंसा लिया जस्ट डायल व्हाट्सएप के माध्यम से चलाए जा रहे इस पूरे रैकेट पर एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट काफी समय से नजर बनाए हुए थी आज कार्रवाई करते हुए होटल से सरगना समेत चार महिलाओं व तीन ग्राहक पुरुषों को होटल में ही धर दबोचा।  just dail में बॉडी मसाज पार्लर के नाम के जरिए चलाया जा रहा था यह गोरखधंधा
 
 
इसमें रैकेट की सरगना ओमा उर्फ पूजा जिसे पूजा नाम के नाम से जाना जाता था ने  just dail के माध्यम से बॉडी मसाज का ऐड देकर ग्रुप बनाया था तथा ऋषिकेश और हरिद्वार में कहीं पर भी बॉडी मसाज के नाम पर लड़कियां परोसी जाती थी उसमें उसका एक साथी जो कि इसी काम में पारंगत था साथ दे रहा था ग्राहकों को बॉडी मसाज के नाम 24 घंटे सर्विस उपलब्ध कराए जाने के नाम पर होटल में ही लड़कियां परोसी जाती थी व्हाट्सएप में व अन्य माध्यमों से ग्राहकों को लालच देकर होटल में ही बुलाया जाता था व उनसे मोटे पैसे वसूले जाते थे 5 महीने से यह गोरखधंधा शहर के बीचो-बीच फल फूल रहा था सरगना पूजा दिल्ली में पहले भी  वेश्यावृत्ति के धंधे में लिप्त थी और 5 महीने पहले ही उसने हरिद्वार का रुख किया था यहां ऊंचे पैसों व अच्छे ग्राहकों के लालच में उसने हरिद्वार का रुख किया देश के कई वेश्यावृति ग्रुप से उक्त महिला की तार जुड़े होने की खबरें है अच्छे काम की चाह में सरगना द्वारा  होटल डिवाइन गंगा 1 साल के लिए लीज पर लिया वह यहीं रहकर वह इसी होटल में लड़कियां ग्राहकों को उपलब्ध करा देती थी लड़कियों के देश के विभिन्न कोणों से पैकेज व आधे आधे रेट के आधार पर अपने यहां बुला कर वेश्यावृत्ति  करवाती थी। यह होटल सरगना द्वारा मोटी रकम देकर लीज पर लिया था सरगना उमा उर्फ पूजा का अवैध वेश्यावृति व्यवसाय के लिए देश में नेटवर्क है सरगना से पकड़ी गई लड़कियों में दो पश्चिम बंगाल और एक गाजियाबाद उत्तर प्रदेश की लड़कियां बरामद हुई सरगना ने  काफी व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से पूरे देश में जाल फैला रखा है जहां से उसको सस्ते दरों पर लड़कियां उपलब्ध होती थी जिनको वह होटल में ही और ग्राहकों की डिमांड के आधार पर वही उपलब्ध करा देती थी सरगना के पास से पकड़े गए दो मोबाइल फोन से इस बात का खुलासा हुआ कि उक्त महिला का नेटवर्क क्षेत्र में काफी लंबा चौड़ा है उसकी भी एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट द्वारा जांच की जा रही है तथा सरगना के तार हरिद्वार क्षेत्र में ही वह वेश्यावृत्ति करने वाले अन्य कई ग्रुपों से जुड़े हुए है जिसके माध्यम से यह आपस में लड़कियों को इधर से उधर आदान-प्रदान भी करते हैं
 
अपने ही बनाए हुए जाल में खुद फंस गई सरगना
 
सरगरा द्वारा किस नेटवर्किंग के जरिए इस व्यवसाय को फलने फूलने का आधार बनाया उसी का पीछा करते हुए एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट हरिद्वार द्वारा सरगना को उसको धर दबोचा just dail मैं 1700 रूपए का सालाना पैकेज लेकर काम किया जा रहा था। just dail में दिए गए नंबर के आधार पर ही यूनिट की टीम ने महिला को मुखबिर के माध्यम से ट्रेस करना शुरू किया और जब वह विश्वास में आ गई तो महिला द्वारा स्वयं ही अपने ही होटल में उन्हें बुला लिया गया जहां पर टीम द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए छापेमारी की गई सरगरा के इस धंधे में  अन्य साथियों को भी  होना माना जा रहा है जो कि अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है यह पूरा नेटवर्क व्हाट्सएप और जस्टि्डायल के माध्यम से चलाया जाता है जिसमें विभिन्न प्रलोभन देकर ग्राहकों से मोटी रकम लेकर उनको बेहतर से बेहतर सुविधाएं देने का लालच दिया जाता है।
एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट हरिद्वार क्षेत्र में चल रही है अवैध  व वेश्यावृत्ति को लेकर अब एक फ्रेम में काम कर रही है जिसके माध्यम से अन्य नेटवर्किंग साइट के माध्यम से विभिन्न विज्ञापनों के द्वारा चलाए जा रहे सेक्स वर्कर को बढ़ावा देने वाले विज्ञापनों को खंगाल कर उन तक पहुंच बना रही है यूनिट की छापेमारी का अभियान लगातार जारी रहेगा
 
टीम में शामिल सदस्य गण
1. निरीक्षक नरेंद्र सिंह बिष्ट
2 कांस्टेबल राकेश कुमार
3 हेड कांस्टेबल हेमलता
4 महिला कांस्टेबल अनीता
5 महिला कांस्टेबल सीमा
6 कॉन्स्टेबल देवेंद्र
7 कॉन्स्टेबल जसवीर
 
अभियुक्त गण
1. उमा और पूजा( सरगना)
2 आकाश पुत्र सुनील( सहयोगी)
3. अभिनव शर्मा पुत्र जतिन शर्मा( ग्राहक)
4. नीरज पुत्र राजू (ग्राहक)
5. अंजना निवासी पश्चिम बंगाल
6 .लक्की पत्नी गौरव हावड़ा पश्चिम बंगाल
7. नेहा पत्नी अर्जुन गाजियाबाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published.