हरिद्वार-सुरेन्द्र सिंह पुत्र स्व० श्री अजीत सिंह निवासी ग्राम अहमदपुर ग्रन्ट थाना बहादराबाद जिला

हरिद्वार में  लिखित तहरीर दी कि अज्ञात अभियुक्त द्वारा मुझे फोन से धमकी देते हुए

50 लाख रुपये की मांग की गयी है तथा न देने पर जान से मारने की लगातार धमकी दी जा रही है। तहरीर

के आधार पर थाना बहादराबाद में अ०सं० 371/21 धारा 386, 506 भादवि बनाम अज्ञात के विरूद्ध पंजीकृत

किया गया।

 

उपरोक्त आपराधिक प्रकरण का अनावरण कर वाछित अभियुक्त गणों की गिरफ्तारी करने हेतु  पुलिस

उपमहानिरीक्षक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार डॉ० योगेन्द्र सिंह रावत द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश

दिये गये। जिसमे  पुलिस अधीक्षक नगर  तथा  पुलिस अधीक्षक अपराध

हरिद्वार   के निर्देशन व  सहायक पुलिस अधीक्षक क्षेत्राधिकारी ज्वालापुर 

 व पुलिस उपाधीक्षक ऑपरेशन हरिद्वार के कुशल पर्यवेक्षण गठन किया

गया। अभियुक्ता द्वारा बादी से लगातार अलग अलग नम्बर से धनराशि की मांग की जाती थी परन्तु सभी धमकी

वाले नम्बरों की जानकारी करने पर उक्त नम्बर “वर्चुअल नम्बर पाये गये। इस प्रकार के नम्बरों की कॉल डिटेल के

माध्यम से घटना का अनावरण किया जाना कठिन हो गया। सी०आई०य० हरिद्वार द्वारा गहनता से इस पर

विश्लेषण किया गया तो पाया कि उनकी देने वाली कॉल इन्टरनेशनल कॉल है तथा ये इन्टरनेशल कॉलस जिस

विदेशी कम्पनी के माध्यम से की जाती थी, वह कम्पनी भारत में प्रतिबन्धित है जिस कारण उक्त इन्टरनेशल

कॉलर की जानकारी नहीं मिल पा रही थी। सी०आई०यू० द्वारा इन्टरनेशल कालो की गहनता से जानकारी व

सर्विलान्स किया गया तो घटना में संलिप्त अभियुक्तों की जानकारी प्राप्त हुई। “अलग-अलग पुलिस टीमों का

 

गठित टीमो द्वारा जानकारी एकत्रित कर सुरागरसी पतारसी सर्विलांस में आई प्रगति के आधार पर

दिनांक 05-01-2022 को प्रभारी निरीक्षक सीआइयू हरिद्वार व थानाध्यक्ष बहादराबाद तथा हमराही पुलिस

बल के साथ थाना क्षेत्र में अभियोग से सम्बन्धित मुल्जिमान की तलाश के दौरान चार अभि०गणों 1 परीक्षित

उर्फ प्रिंस पुत्र रामपाल शर्मा निवासी ग्राम सहदवपुर थाना पथरी जिला 2 मंजीत पुत्र राजेन्द्र निवासी ग्राम

सहदेवपुर थाना पथरी जिला हरिद्वार 3-विनीत पुत्र स्वपन कुमार नि० ग्राम भारोदा थाना दौराला मेरठ उ०प्र०

हाल पता दक्ष इन्कलेव कालोनी सराय रोड कोत० 4 शेरखान इमरान नि० सरकडी थाना गंगनहर जिला हरिद्वार

को गिरफ्तार किया गया जिनके कब्जे से घटना में प्रयुक्त अवैध तमन्चे मोबाईल फोन व मोटर साईकल बरामद

हुयी पूछताछ में अभियुक्त गणों द्वारा • सुरेन्द्र चौधरी से 50 लाख रूपयो की फिरौती मांगने की बात स्वीकार

की गयी तथा डराने के लिये 25 दिसम्बर की आलम पुत्र इमरान निवासी सरकडी थाना गंगनहर जिला हरिद्वार

हाल पता सउदी अरब की संलिप्ता प्रकाश में आने पर अभि० मुनीर आलम की नामजदगी दर्ज की गयी ।

अभियुक्त 1-मजीत, 2-परीक्षित उर्फ प्रिंस 3-शेरखान कब्जे से नाजायज तमचे मय जिन्दा कारतूस बरामद हुए है

जिसके सम्बन्ध में मु0अ0सं0 14/ 22 धारा 25 ए. एक्ट बनास मंजीत मु०अ० सं० 15६22 धारा 25 ए एक्ट बनाम

परीक्षित उर्फ प्रिंस, मु0अ0सं0 16/21 धारा 25ए एक्ट बनाम शेरखानपंजीकृत किया गया । अभियुक्त गणों को

माननीय न्यायालय में पेश किया जा रहा है।

 

 इस प्रकार की घटना उत्तराखण्ड में पहली बार हुई है, जिसका अनावरण करना उत्तराखण्ड पुलिस के लिए

एक चुनौती थी। इस प्रकार की घटना का प्रथम बार अनावरण सी०आई०यू० हरिद्वार एवं बहाराबाद पुलिस द्वारा

किया गया जो सराहनीय है।

नाम अभियुक्त गणः

1-मजीत पुत्र राजेन्द्र निवासी ग्राम सहदेवपुर थाना पथरी जिला हरिद्वार

2- परीक्षित उर्फ प्रिंस पुत्र रामपाल शर्मा निवासी ग्राम सहदेवपुर थाना पथरी जिला हरिद्वार।

3-विनीत पुत्र पवन कुमार नि० ग्राम भारीटा थाना दौराला मेरठ उ०प्र० हाल पता दक्ष इन्कलेव कालोनी सराय रोड

 

कोत० ज्वालापुर हरिद्वार

4- शेरखान पुत्र इमरान नि० सरकंडी थाना गंगनहर जिला हरिद्वार।

 

नाम पता वांछित अभियुक्त

 

1- मुनीर आलम पुत्र इमरान निवासी सरकडी थाना गंगनहर जिला हरिद्वार हाल पता रियाद सउदी अरब ।

 

• अभियुक्तो का अपराधिक इतिहासः

 

1-मु०अ०स० 371 / 21 धारा 386,506,34 2- मु०अ०स० 14/22 धारा 25ए एक्ट बनाम मंजीत थाना बहाराबाद

 

भादवि थाना बहाराबाद

 

3-मु०अ०स० 15/22 धारा 25ए एक्ट बनाम परीक्षित थाना बहादराबाद 4- मु०अ०स० 16/22 धारा 25ए एक्ट

बनाम शेरखान थाना बहादराबाद 5-मु०अ०सं० 325 21 धारा 379 411 भादवि बनाम-परीक्षित, कोतवाली रानीपुर

बरामदा माल:

 

1- एक तमचा 315 बोर मय एक जिन्दा कारतूस 315 बोर (भजीत)।

2- 2-एक तमंचा 12 बोर मय एक जिन्दा

3- कारतूस 12 बोर ( परीक्षित उफ प्रिंस)

4- 3- एक तमंचा 315 बोर मय एक जिन्दा कारतूस 315 बोर (शेरखान)

5- 4-एक मोबाईल फोन वीवो कम्पनी का (थाना रानीपुर क्षेत्र से छीना हुआ)

6- -दो मोटर साईकिल घटना में प्रयुक्त की गई।

7- -तीन मोबाईल फोन

 

पुलिस टीम-थानाध्यक्ष रणवीर सिंह चौहान-थाना बहादराबाद,30नि0 गजेन्द्र सिंह रावत-थाना बहादराबाद

 

उ0नि0 अकरम अहमद-थाना बहादराबाद उ0नि0 हेमदत्त भारद्वाज-थाना बहादराबाद,का० बलवीर चौहान-थाना

बहादराबाद का0 मुकेश नेगी- थाना बहादराबाद,का0 अमित भट्ट थाना बहादराबाद,का० दिनेश चौहान-थाना बहादराबाद,

कांo वसीम अकरम (सीआईयू हरिद्वार) का० मनोज कुमार (सीआईयू हरिद्वार)]का० नितिन (सीआईयू रूडकी)का0 महीपाल (सीआईयू रूडकी,

सीआईयू हरिद्वार -प्रभारी निरीक्षक नरेन्द्र सिंह बिष्ट,उ0नि0 रणजीत सिंह तोमर,उ0नि0 जहांगीर अली (सीआईयू रूडकी) हे०कां० सुन्दर लाल (सीआईयू हरिद्वार)का0 विवेक यादव (सीआईयू हरिद्वार) का0 हरवीर सिंह रावत (सीआईयू हरिद्वार),का० नरेन्द्र सिंह (सीआईयू हरिद्वार),का० उमेश कुमार (सीआईयू हरिद्वार) का० पदम सिंह (सीआईयू हरिद्वार),का० अजय कुमार (सीआईयू हरिद्वार)

Leave a Reply

Your email address will not be published.